पहले चाकू से गोदा फिर सड़क पर डेढ़ किलोमीटर तक घसीटी लाश, मौत का ऐसा तमाशा जो कभी नहीं देखा

ADVERTISEMENT

Noida Viral Video: ये घटना हिंदुस्तान के किसी दूर दराज इलाके में नहीं बल्कि राजधानी दिल्ली से सटे नौएडा में हुई और वो भी सरेआम। नौएडा के बरौला गांव में पुरानी रंजिश के चलते चाकुओं से हमला कर जान लेने के बाद बदमाशों ने मरने वाले की लाश का वो हाल किया कि देखने वालों की रूह कांप गई।

social share
google news

Noida Murder: पहले चाकुओं से गोदा, फिर जब जान निकल गई तो बाइक के पीछे रस्सी से बांध कर सड़क पर पूरे डेढ़ किलोमीटर तक घसीटा। इस खौफनाक घटना का चश्मदीद बना पूरा मोहल्ला। जी हां, ये घटना हिंदुस्तान के किसी दूर दराज इलाके में नहीं बल्कि राजधानी दिल्ली से सटे नौएडा में हुई और वो भी सरेआम। नौएडा के बरौला गांव में पुरानी रंजिश के चलते चाकुओं से हमला कर जान लेने के बाद बदमाशों ने मरने वाले की लाश का वो हाल किया कि देखने वालों की रूह कांप गई। सड़क से रगड़ खा कर लाश के चीथड़े उड़ रहे थे और लोग खामोशी से तमाशा देख रहे थे। मगर ये हिमाकत करने वाले बदमाशों का अंजाम भी अच्छा नहीं हुआ। वारदात को अंजाम देने वाले दोनों आरोपियों को पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान गोली मार दी। पुलिस के मुताबिक मुख्य आरोपी ने कथित तौर पर अपने पिता पर हुए हमले का बदला लेने के इरादे से इस वारदात को अंजाम दिया था। मगर जिस बेरहमी से उन्होंने ये हत्या अंजाम दी और फिर लोगों को खौफजदा करने के लिये उसका तमाशा बनाया ये काम सीधे तौर पर पुलिस के इकबाल को चुनौती देने वाला था। लिहाजा पुलिस ने भी आरोपियों का इलाज अपने तरीके से करने का फैसला कर लिया। अब पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ NSA की कार्रवाई शुरु कर दी है। 

क्या था पूरा मामला?

ये हैरतअंगेज घटना 20 जनवरी 2024 को हुई। मेहंदी हसन नाम का एक शख्स अपने पूरे परिवार के साथ पिछले 8 साल से नोएडा सेक्टर 49 के पास बरौला गांव में रह रहा था। मेहंदी हसन ई-रिक्शा चलाकर अपने चार बच्चों के साथ अपने परिवार को पालता था। उसकी बीवी नजमा पास के घरों में साफ-सफाई का काम करती थी। 2018 में एक मामूली विवाद में मेहंदी हसन ने बुलंदशहर के रहने वाले विनोद पर चाकू से हमला कर उसे  गंभीर रूप से घायल कर दिया था। जिसके बाद मेहंदी कई महीनों तक जेल में रहा। विनोद का बेटा अनुज और उसका चचेरा भाई  बरौला गांव में मेहंदी के पड़ोस में ही रहते थे। पिता पर हमले के बाद से ही अनुज मेहंदी से बदला लेने का मौका ढूंढ रहा था। 20 जनवरी के रोज मेहंदी हसन अपने घर से निकला तो रास्ते में उसका अनुज और उसके चचेरे भाई नितिन से विवाद हो गया। अनुज को बस इसी मौके का इंतजार था। उसने मेहंदी पर चाकू से ताबड़ तोड़ हमला बोल उसे लहूलुहान कर दिया। इतने से भी अनुज का मन नहीं भरा तो उसने मेहंदी के पैरों को बाइक के पीछे रस्सी से बांध दिया और फिर उसे घसीटते हुए गांव की मेन रोड पर करीब डेढ़ किमी तक ले गया। जाहिर है तब तक मेहंदी की मौत हो चुकी थी। पूरी सड़क पर खून के निशान साफ नजर आ रहे थे। इसी के बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया था। 

NSA के तहत हो रही है कार्रवाई

इस घटना से पूरा गांव सहम गया था। केस का मुख्य आरोपी अनुज गांव के पास ही एक अस्पताल में काम करता था। जबकि उसका भाई नितिन दूध बेचने का काम करता था। गांव के उस घर में दोनों साथ ही रहते थे। चश्मदीदों के मुताबिक आरोपियों ने ये घटना नशे की हालत में अंजाम दी थी। बहरहाल पुलिस ने हत्या में इस्तेमाल चाकू फौरन बरामद कर लिया था। जबकि मामले में चार्जशीट जल्द ही दाखिल की जानी है। पुलिस ने इस केस में 20 से ज्यादा गवाहों के बयान पर ये चार्जशीट तैयार की है। पुलिस अब हत्याकांड के दोनों आरोपियों के खिलाफ एनएसए लगाने की कार्रवाई कर रही है। पुलिस इस केस को फास्ट ट्रैक कोर्ट में ले जा कर आरोपियों को जल्द से जल्द सख्त सजा दिलवाना चाहती है ताकि आगे कोई और ऐसी हरकत करने की हिमाकत न कर सके। 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...