धनबाद में रिश्वत नहीं दी तो महिला SHO ने फोन ही रख लिया गिरवी, परेशान लड़की ने जहरीला पदार्थ खा किया सुसाइड का प्रयास

ADVERTISEMENT

Dhanbad News : धनबाद में लड़की ने किया सुसाइड का प्रयास. एसएसपी ऑफिस के बाहर खाया जहर. हालत गंभीर. पूरा मामला जानिए.

social share
google news

धनबाद से सिथुन मोदक की रिपोर्ट

Dhanbad News : धनबाद में थाने में हिरासत में लिए गए भाई को छुड़ाने आई बहन ने रिश्वत के पैसे नहीं दिए तो उसका फोन ही गिरवी लेने का आरोप है. पैसे के बदले फोन को गिरवी रखने का आरोप महिला थाना प्रभारी पर है. इससे परेशान होकर लड़की ने धनबाद के एसएसपी ऑफिस के बाहर जाकर जहरीला पदार्थ खाकर आत्महत्या की कोशिश की. लड़की को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. 

झारखंड के धनबाद एसएसपी ऑफिस के परिसर में एक युवती द्वारा जहर खाकर जान देने की सूचना के बाद हड़कंप मच गया। एसएसपी ऑफिस परिसर से डीएसपी वाहन से आनन फानन में युवती को SNMMCH अस्पताल लाया गया। जहां उसका इलाज चल रहा है। युवती और उसके परिजनों ने महिला थाना की पुलिस के ऊपर गंभीर आरोप लगाए हैं। महिला थाना प्रभारी द्वारा पैसा मांगने और पैसा नही देने पर मारपीट करने और मोबाइल रख लेने की बात पीड़ित युवती ने मीडिया से कही है। वहीं महिला थाना प्रभारी ने युवती द्वारा लगाए आरोपों को निराधार बताया है।

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

Dhanbad : अस्पताल में भर्ती लड़की

पहले 20 हजार लिए फिर 30 हजार और मांगे

धनबाद के सरायढेला की रहने वाली लड़की अपने भाई रॉकी से मिलने के लिए महिला थाना पहुंची थी। महिला थाना प्रभारी ने उसे बैठा लिया और पैसे की मांग की। 20 हजार रुपये भी ले लिए गए। फिर उसने 30 हजार रुपये और मांगे। ये पैसे नहीं देने पर मेरा मोबाइल रख लिया। उसने बताया कि जिसकी जानकारी मैंने ग्रामीण एसपी को दी। ग्रामीण एसपी ने अपने कार्यालय में महिला थाना प्रभारी पूजा कुमारी को बुलाकर उनसे मोबाइल फोन देने को कहा। जिसके बाद थाना प्रभारी मुझे साथ लेकर महिला थाना पहुंची। एसपी के पास जाने को लेकर थाना प्रभारी और भड़क गई। उसने महिला थाना में मुझे भला बुरा कहा। पीड़ित युवती ने आरोप लगाया कि थाना प्रभारी समेत अन्य महिला पुलिस कर्मियों ने उसके साथ धक्का मुक्की कर मारपीट की। जिसके बाद महिला थाना से जान बचाकर भागी और एसपी कार्यालय के पास आकर जहर खा ली।  

लड़की पूजा की मां संध्या देवी

लड़की पूजा की मां ने क्या कहा 

पूजा की मां संध्या देवी ने कहा कि उसके बेटे रॉकी का जोड़ापोखर थाना क्षेत्र के शालीमार के रहने वाले हरेराम सिंह की बेटी वर्षा सिंह से प्रेम प्रसंग चल रहा था। महिला थाने में वर्षा के द्वारा बेटे रॉकी के ऊपर कई आरोप लगाते हुए महिला थाना में शिकायत की है। शिकायत मिलने के बाद महिला थाना प्रभारी वर्षा और उसके परिवार के साथ मिलकर पैसा ऐंठने का काम कर रहें हैं। आज बेटी पूजा अपने भाई से मिलने के लिए महिला थाना गई थी। जिसके बाद यह घटना घटी है।  

ADVERTISEMENT

महिला थाना प्रभारी का आरोपों पर क्या है कहना 

महिला थाना के प्रभारी पूजा सिंह ने मामले को लेकर कहा कि वर्षा सिंह के द्वारा शिकायत की गई थी। शिकायत में वर्षा ने बताया है कि दो महीने पहले घर से भागकर रॉकी ने एक मंदिर में उसके साथ शादी रचाई। वहीं रॉकी ने भी वर्षा के द्वारा मारपीट करने की शिकायत महिला थाना में की है। मंगलवार को दोनों को थाना बुलाया गया था। दोनों के परिजन भी थाना पहुंचे थे। रॉकी और उसके परिजनों ने थाना में जमकर हंगामा किया। यही नहीं, रॉकी ने अपने सिर को थाना के गेट में जोर से टक्कर मारी। जिसके कारण गेट में लगे शीशे के ग्लास पूरी तरह से टूट गए।इसके बाद रॉकी और उसका पूरा परिवार चला गया। 

हंगामे के दौरान रॉकी की बहन पूजा का मोबाइल थाना में गिरा हुआ पाया गया। बुधवार को रॉकी की बहन पूजा और मां संध्या दोनों थाने पहुंची। उसने अपनी मोबाइल मांगी। जिस पर उसे कहा गया कि आप लोगों के द्वारा गेट के शीशे का ग्लास तोड़ा गया है। आप लोग उसे बनवा दीजिए मोबाइल दे देंगे। इसके बाद पूजा और उसकी मां संध्या दोनो उठकर ग्रामीण एसपी के पास चले गए। उसके बाद ग्रामीण एसपी ने मुझे बुलवाकर मामले की जानकारी लेते हुए मोबाइल देने को कहा। दोनों थाना पहुंचे और फिर यहां आकार हंगामा कर चिल्लाते हुए चले गए। SNMMCH के स्वास्थ कर्मियों के मुताबिक पूजा ने कोई नशीली दवा खाई थी। जिसका इलाज चल रहा है।

    यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT