मां की तलाश में बेटी पहुंची हाथरस वाले बाबा के आश्रम, देर रात तक वहीं रही तो ये सच निकला, देखिए ये वीडियो

ADVERTISEMENT

मां की तलाश में बेटी पहुंची हाथरस वाले बाबा के आश्रम, देर रात तक वहीं रही तो सच ये निकला, देखिए ये वीडियो

social share
google news

Hathras: यूपी के हाथरस में सत्संग में मची भगदड़ में अब तक 123 लोगों की मौत हो चुकी है। 120 लोगों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट से चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। पता चला है कि 74 महिलाओं की मौत दम घुटने की वजह से हुई है, जबकि 31 महिलाओं की मौत पसलियां टूटने से हुई। डॉक्टरों का कहना है कि भगदड़ के दौरान ये महिलाएं भीड़ में कुचल गई थीं और लोगों के वजन और भीड़ के दबाव से इनकी पसलियां टूट कर इनके दिल और फेफड़ों में घुस गईं थीं। इसके अलावा पोस्टमॉर्टम 15 लोगों की सिर और गर्दन की हड्डी टूटने की वजह से मौत हुई। चूंकि भगदड़ के दौरान ज्यादातर महिलाएं और बच्चे भीड़ के दबाव से सड़क के नीचे पानी भरे खेतों में गिर गए थे पोस्टमॉर्टम के लिये लाई गईं ज्यादातर लाशें मिट्टी में सनी थीं। कान, नाक और मुंह तक में मिट्टी भरी थी। आंकड़ों के मुताबिक मरने वालों में 113 महिलाएं, 7 बच्चे और 3 पुरुष हैं। जबकि कुछ परिजनों ने मृतकों का पोस्टमॉर्टम नहीं कराया। ऐसी सभी लाशों का पोस्टमार्टम हाथरस, अलीगढ़, आगरा और एटा के अस्पतालों में हुआ है।

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...