कतर में आठ भारतीयों की सजा केस में नया अपडेट, केस में अपील के लिए कानूनी टीम को 60 का समय दिया गया, विदेश मंत्रालय का बयान

ADVERTISEMENT

जांच जारी
जांच जारी
social share
google news

World News: भारतीय नौसेना के जेल में बंद आठ पूर्व कर्मियों की कानूनी टीम को कतर की अपीलीय अदालत के फैसले के खिलाफ अपील करने के लिए 60 दिन का समय दिया गया है। विदेश मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। कतर की अपीलीय अदालत ने पिछले महीने जासूसी के एक कथित मामले में भारतीय नौसेना के आठ पूर्व कर्मियों की मौत की सजा को कम कर दिया था।

कतर में आठ भारतीय नौसेना कर्मी केस

इस केस में उन्हें अलग-अलग अवधि के लिए जेल की सजा सुनाई थी। यह फैसला भारतीय नागरिकों के परिवारों के सदस्यों द्वारा एक अन्य अदालत के पहले के आदेश के खिलाफ अपील दायर करने के कुछ सप्ताह बाद आया था। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रणधीर जायसवाल ने एक प्रेस वार्ता में कहा कि आदेश के खिलाफ कतर की सर्वोच्च अदालत में अपील दायर करने के लिए 60 दिन का समय दिया गया है।

अपील दायर करने के लिए 60 दिन का समय

नौसेना कर्मियों को 30 अगस्त, 2022 को दोहा में गिरफ्तार किया गया था; पहला ट्रायल इसी साल मार्च में हुआ था। भारतीय नौसेना के आठ पूर्व कर्मियों - कैप्टन नवतेज सिंह गिल, कैप्टन बीरेंद्र कुमार वर्मा, कैप्टन सौरभ वशिष्ठ, कमांडर अमित नागपाल, कमांडर पूर्णेंदु तिवारी, कमांडर सुगुनाकर पकाला, कमांडर संजीव गुप्ता और नाविक रागेश - को 8 अगस्त, 2022 से कतरी खुफिया विभाग द्वारा हिरासत में लिया गया था। 

ADVERTISEMENT

(PTI)

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT