कौन है अनुराधा, जिसकी काला जठेड़ी से हो रही है शादी?

ADVERTISEMENT

लेडी डान अनुराधा
लेडी डान अनुराधा
social share
google news

Gangster Kala Jathedi Marriage: गैंगस्टर काला जठेड़ी और लेडी डान अनुराधा की शादी होने जा रही है। काला जठेड़ी की दुल्हनियां बनने जा रही लेडी डान अनुराधा के अतीत के बारे में भी झांक लेते हैं। अनुराधा दूसरी लड़कियों की तरह ही पढ़ाई-लिखाई करने वाली लड़की थी, लेकिन एकाएक ऐसा क्या हुआ कि अनुराधा का जरायम की दुनिया में सिक्का चलने लगा तो आइये आपको बताते हैं।

क्यों अनुराधा अपराध की तरफ खींची चली आई?

अनुराधा चौधरी सीकर जिले के फतेहपुर के पास गांव अलफासर में जन्मी थीं। उसने चामड़िया कॉलेज से बीसीए किया। इसके बाद एमबीए किया। अनुराधा के पिता सरकारी नौकरी में थे। कालेज में उसकी दोस्ती दीपक मिंज से हुई। दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगा। आखिरकार दोनों ने शादी कर ली। अनुराधा और दीपक मिंज दोनों ही शेयर मार्केट में पैसे लगाते थे, लेकिन उस वक्त अनुराधा का नाम करोड़ों रुपए की ठगी में सामने आया था। इसके बाद उसने पीछे मुड़कर नहीं देखा। एक के बाद एक वो कई अपराध करती चली गई। दरअसल, अब उसे अपने ऊपर से कर्ज उतारना था और पैसे कमाने थे। इस वजह से उसने अपराध की दुनिया में कदम रखा।

ADVERTISEMENT

आनंदपाल के साथ लिव इन में रही थी अनुराधा

इस दौरान उसके कई गैंगस्टरों से संपर्क हो गया थे। उनमें से एक था बलवीर बानूड़ा। अनुराधा हिस्ट्रीशीटर बलवीर बानूड़ा के जरिए राजस्थान के नामी गैंग्स्टर आनंदपाल सिंह से मिली। अनुराधा फर्राटेदार अंग्रेजी बोलती थी और आनंदपाल का अंग्रेजी में हाथ तंग था। 

ADVERTISEMENT

2013 में शामिल हुई आनंदपाल गैंग में 

ADVERTISEMENT

तब आनंदपाल ने अनुराधा से अंग्रेजी बोलना सिखाने का वायदा करवाया और दोनों अंग्रेजी सीखते-सीखते प्यार में भी पड़ गए। जब आनंदपाल से अनुराधा की नजदीकियां बढ़ी तो दीपक मिंज ने उससे नाता तोड़ लिया। अनुराधा अपने पति को छोड़कर 2013 में आनंदपाल गैंग में शामिल हो गई। 

अनुराधा आनंदपाल के साथ लिव इन में रहने लगी। 2006 में हुए जीवणराम गोदारा हत्याकांड के मुख्य गवाह प्रमोद चौधरी के भाई इंद्रचंद का 2014 में अनुराधा ने ही अपहरण किया था। वह उसे लेकर पुणे चली गई थी। वहां उसे एक फ्लैट में बंधक बना लिया गया था।

2017 में हुआ था आनंदपाल का एनकाउंटर

आनंदपाल से अनुराधा ने एके 47 चलानी सीखी। अनुराधा चौधरी भी अपहरण और लाखों रुपए की वसूली की वारदातों में शामिल होने लगी। उसके खिलाफ अपहरण, मारपीट, जान से मारने की धमकियां देने सहित कई मुकदमें दर्ज हैं। 2017 में आनंदपाल का एनकाउंटर हो गया और इसी बीच अनुराधा भी पुलिस के हत्थे चढ़ गई।

...जब काला जठेड़ी से हुई अनुराधा की मुलाकात

अनुराधा कई बार जेल गई और बाहर आई। जेल से छूटने के बाद अनुराधा दिल्ली जाकर रहने लगी। 2018 में वो लॉरेंस बिश्नोई गैंग के संपर्क में आई और इसके बाद काला जठेड़ी से उसकी मुलाकात हुई।

रिवाल्वर रानी की कहानी

कहते हैं कि सीकर में गैंगस्टर राजू ठेहट की हत्या के बाद भी अनुराधा का नाम चर्चा में आया था। जुर्म की दुनिया में उसे रिवाल्वर रानी के नाम से भी जाना जाता है।

अनुराधा पर 10 से ज्यादा मामले दर्ज हैं

सीकर पुलिस ने उस पर पांच हजार रुपए का इनाम घोषित किया था। नागौर की जिला अदालत ने 2016 में अनुराधा को एक मामले में 2 साल की सजा सुनाई थी। 2020 में राजस्थान सरकार ने उस पर बीस हजार का इनाम घोषित किया था।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT