मोबाइल में देख रहे थे ब्लू फिल्म, बच्ची ने रंगे हाथों पकड़ा, घर पर शिकायत की बात कही तो...

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

देवरिया से राम प्रताप सिंह की रिपोर्ट

UP Murder News: बच्चों के लिए एंड्रॉयड फोन बेहद खतरनाक है। मोबाइल के जरिए बच्चा जुर्म की राह पकड़ सलाखों के पीछे पहुंच सकता है। ऐसा ही एक केस उत्तर प्रदेश के देवरिया में सामने आया है। गोरस्थान देवरिया का छोटा सा गांव। 28 फरवरी की सुबह सोना खुशी खुशी स्कूल गई थी। 8 साल की सोना ने स्कूल से आने के बाद लंच किया और फिर अपनी प्यारी बकरियों के साथ जंगल की तरफ रवाना हो गई। बच्ची बकरियों को चराने के लिए घर से निकली थी। यूं तो शाम ढलने से पहले सोना हमेशा घर आ जाया करती थी लेकिन शाम होते-होते बकरियां तो वापस घर पहुंच गईं लेकिन आठ साल की बच्ची सोना घर नही पहुंची। 

बच्ची की लाश मिलने से सनसनी

सोना के पिता भरत यादव के साथ साथ गांव के कई लोगों ने देर रात तक पूरे गांव में बच्ची की तलाश की लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला। अगले दिन सुबह सोन्दाताल के किनारे खेत में मिट्टी के ऊंचे भीटे पर बच्ची की लाश मिली। ये लाश भरत यादव की बेटी सोना यादव की थी। सोना गोरस्थान गांव में परिवार के साथ रहती थी। सूचना पर SP संकल्प शर्मा भी जांच करने पहुंचे। फारेंसिक टीम ने भी साक्ष्यों को इकट्ठा किया। मृत बच्ची की पिता की तहरीर पर इस मामले में सदर कोतवाली पुलिस ने केस दर्ज कर विवेचना शुरू की तो हैरान कर देने वाला मामला सामने आया। आप पास के लोगों ने पुलिस को बताया कि बच्ची को रोहित और दो बच्चों के साथ देखा गया था। 

ADVERTISEMENT

तीनों लड़कों ने सोना का किया कत्ल

पुलिस ने इस मामले में एक युवक रोहित चौहान को हिरासत में ले लिया। रोहित से सख्ती से पूछताछ की गई तो हत्याकांड का राज़ सामने आ गया। तीनों लड़कों ने ही सोना का कत्ल किया था। पुलिस ने बाकी के दो नाबालिग आरोपियों को हिरासत मे ले लिया। सदर कोतवाली थाना प्रभारी वेद प्रकाश शर्मा ने बताया कि यह तीनों ग्राम तिलई बेलवा के रहने वाले हैं और गोरस्थान गांव से यह गांव सटा हुआ है। गोरस्थान ग्राम की रहने वाली मृतक बच्ची तिलई बेलवा के कम्पोजिट विद्यालय में पढ़ती थी। उसी विद्यालय में एक नाबालिग लड़का जो आरोपी है वह भी पढता है जिसकी वजह से यह सभी एक-दूसरे को जानते थे।

मोबाइल, न्यूड वीडियो और हत्या

देवरिया में स्कूल में पढ़ने वाले दो नाबालिग और एक लड़का मोबाइल में न्यूड वीडियो देख रहे थे। इसी दौरान बकरी चराने गई बच्ची ने पीछे से मोबाइल में चलती वीडियो देख ली। बच्ची ने लड़कों से कहा कि तुम्हारे घर में शिकायत कर दूंगी। डरे सहमे तीनों लड़कों ने बच्ची को ऐसा ना करने के लिए उसकी काफी मिन्नतें की और जब वह नही मानी तो तीनों ने साजिश रची। साजिश के तहत तीनो लड़के बच्ची को बेर खिलाने के बहाने ले गए और उसी की चुन्नी से उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। इस मामले में पुलिस ने दो नाबालिगों को हिरासत में ले लिया और तीसरे युवक को गिरफ्तार कर लिया है। 

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT