100 गज का प्लाट, 15 साल पुरानी रंजिश, एक जेल दो गैंगस्टर, चौंका देगी नोएडा किलिंग और गैंगवार की ये कहानी

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

नोएडा से अरविंद ओझा की रिपोर्ट

UP Noida Crime: 15 साल पहले दिल्ली में 100 गज के प्लॉट का झगड़ा गैंग वार में बदल गया। इस रंजिश में अब तक कई हत्याएं हो चुकी हैं। दिल्ली की गैंगवार आखिर नोएडा तक कैसे पहुंची। कैसे जेल में बैठे एक गैंगस्टर ने रची नोएडा में एयर इंडिया के क्रू मेंबर की हत्या की साजिश। पुलिस ने पूरा खुलासा कर दिया है। नोएडा पुलिस की जांच में सामने आया की मृतक सूरज मान मूल रूप से आउटर दिल्ली के नरेला क्षेत्र स्थित खेड़ा खुर्द गांव का रहने वाला है, जो कि वहां के कुख्यात गैगलीडर प्रवेश मान उर्फ सागर मान का मृतक सगा छोटा भाई है, आपसी रंजिश के कारण मृतक अपने गांव को छोडकर सैक्टर 110 नोएडा में काफी समय से रह रहा था।  

100 गज प्लॉट की दुश्मनी

जांच में खुलासा हुआ है कि सूरजमान के घर के बगल उसी के गांव में रहने वाला इसका प्रतिद्वंदी गैंग लीडर जिसका नाम कपिल मान उर्फ कल्लू है, उसने कत्ल कराया है। प्रवेश मान गैंग और कपिल मान गैंग ये दोनों गैंग एक ही गांव के रहने वाले हैं। दोनों गैंग लीडर प्रवेश मान और प्रतिद्वंदी कपिल मान इस समय मंडोली जेल दिल्ली में बंद हैं। दोनों की पारिवारिक रंजिश विगत लगभग 15 वर्षों से चली आ रही है, जिनका इस गांव में एक 100 गज जमीन को लेकर विवाद शुरू हुआ था एवं यह विवाद इनके वर्चस्व की लड़ाई और खून खराबे में बदल गया। इसी कड़ी में एक दूसरे के परिवारों के साथ कई घटनाएं दिल्ली में की जा चुकी हैं।

ADVERTISEMENT

नोएडा किलिंग और गैंगवार की ये कहानी

कपिल मान गैंग ने प्रवेश मान के चचेरे भाई अनिल मान की हत्या 2019 में की गई। प्रवेश मान के चाचा वीरेंद्र मान की भी हत्या 2019 में की गई थी। प्रवेश मान के मित्र मनीष मान के ऊपर जानलेवा हमला किया गया था। जिसमें उसे 19-20 गोलियां लगी थी वह बच गया था। जबकि प्रवेश मान गैंग की तरफ से कपिल मान के पिता की हत्या 2022 में करा दी गई थी। उसके पहले 2017 में कपिल के चाचा सूर्य प्रकाश उर्फ बबलू की हत्या की गई थी। अब तक की जांच में कल सूरज की हत्या कपिल मान उर्फ कल्लू गैंग द्वारा अपने पिता की हत्या के बदले के रूप में कराई गई है। नोएडा में दिन दहाड़े कत्ल के बाद 04 टीम घटना के खुलासे में लगी थीं। पुलिस ने 24 घंटे के अंदर ही दो हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया।  

दो गैंग के बीच कत्लोगारत

गिरफ्तार शूटरों धीरज मान और अरुण मान शामिल हैं। पुलिस ने कातिलों की तलाश में करीब 200 सीसीटीवी कैमरे खंगाले। पूछताछ के दौरान कपिल मान के भाई धीरज मान ने बताया कि मृतक सूरज अपने भाई प्रवेश मान की पैरवी कर रहा था। उसे जेल में आर्थिक मदद की जाती थी। कई बार कपिल मान का उपहास उडाया गया, तुम अपने पिता की मौत का बदला नही ले पाये। इसके अलावा मन्नू ने भाई के ऊपर अभी जल्दी ही प्रवेश ने हमला कराया था जिसमें वह बाल बाल बच गया था जिससे व इससे दुश्मनी रखता था। पूछपाछ के दौरान ये भी पता चला कि पेशी के दौरान दिल्ली में कपिल के साथ मिलकर बात हुई थी जिसमें हत्या की योजना मंडोली जेल में बंद कपिल ने ही बनायी थी और कहा थी कि नवीन को भी उसने कुछ काम दिया है। गौरतलब है 19 जनवरी को सैक्टर 104 नोएडा हाजीपुर एनीटाईम फिटनस जिम के बाहर सूरजमान को गोलियों से भून दिया गया था।

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...