उत्तर प्रदेश के आगरा में अवैध कब्जा हटाने के दौरान पुलिस पर पथराव, कील वाली लाठियों से पुलिस पर हमला

ADVERTISEMENT

कब्जा हटाने के दौरान पुलिस पर पथराव
कब्जा हटाने के दौरान पुलिस पर पथराव
social share
google news

UP Crime News: उत्तर प्रदेश के आगरा में रविवार को अवैध कब्जा हटाने के दौरान सत्संगी और पुलिस आमने-सामने आ गए। इस दौरान पथराव भी हुआ जिसमें पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) और सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) समेत 20 पुलिसकर्मी और छह सत्संगी घायल हो गए। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि घटना दयालबाग क्षेत्र की है।

कील वाली लाठियों से पुलिस पर हमला

पुलिस उपायुक्त (शहर) सूरज राय ने बताया कि रविवार को राजस्व विभाग और पुलिस की टीम चक रोड पर कथित रूप से अवैध कब्जा हटाने के लिए पहुंची थी। इस दौरान राधास्वामी सत्संगियों ने कार्रवाई में बाधा डालने का प्रयास किया। उन्होंने बताया कि हजारों की संख्या में जुटे सत्संगियों ने पुलिस को घेर लिया और लाठी-डंडों से हमला कर दिया। पुलिस भीड़ को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज भी किया। इसके बाद माहौल और तनावपूर्ण हो गया और पथराव शुरू हो गया। 

डीसीपी और एसीपी समेत 20 पुलिसकर्मियों को चोटें आई

पुलिस उपायुक्त ने बताया कि भीड़ को बढ़ता देख अतिरिक्त पुलिस बल को बुलाया गया। उन्होंने बताया कि पथराव में एक डीसीपी और एसीपी समेत 20 पुलिसकर्मियों को चोटें आई हैं। कुछ मीडियाकर्मी और लगभग छह सत्संगी भी घायल हुए हैं। राय ने बताया कि राजस्व विभाग और पुलिस अधिकारियों के बीच हुए विचार-विमर्श के बाद सत्संगियां को कब्जे से संबंधित दस्तावेज प्रशासन के समक्ष पेश के लिए 24 घंटे का समय दिया गया है। ऐसा नहीं करने पर दोबारा कार्रवाई की चेतावनी दी गई है।

ADVERTISEMENT

अवैध कब्जे पर शनिवार को बुलडोजर चला था

प्रशासन ने कथित तौर पर सरकारी भूमि और रास्तों पर किये गये अवैध कब्जे पर शनिवार को बुलडोजर चलाया था। इसके बाद सभा ने गेट लगा दिया था। प्रशासन की टीम ने उसे फिर तोड़ दिया और गेट भी अपने साथ ले गई। प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि कुछ देर बाद ही रात में सत्संग सभा ने फिर से गेट लगा दिया। इसके बाद राजस्व विभाग की ओर से सभा के सदस्यों पर मामला दर्ज कराया गया है, जिसमें 12 लोग नामजद हैं।

(PTI)

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT