जेल के अंदर टिल्लू ताजपुरिया को मारे गए 100 चाकू, पोस्टमॉर्टम में हुआ ये बड़ा खुलासा!

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

Murder Tihar Tillu Case: गैंगस्टर सुनील उर्फ टिल्लू ताजपुरिया की हत्या एशिया की सबसे बड़ी और सुरक्षित मानी जाने वाली जेल में हुई। ये हत्या बेहद फिल्मी अंदाज में की गई। पूरी प्लानिंग के साथ गोल्डी बरार के गुर्गों ने टिल्लू पर वो हमला किया कि किसी भी हालत में उसकी जान ना बच सके। अब टिल्लू ताजपुरिया की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में बेहद चौंकाने वाला खुलासा हुआ है। जी हां दीपक तीतर, रियाज गैंडा, योगेश टुंडा और राजेश ने मिलकर सलाखों से बने चाकू व सूजे से टिल्लू के जिस्म पर 100 से ज्यादा वार किए। 

पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से पता चलता है कि टिल्लू के सिर, सीने, पीठ और पेट के हिस्सों में सबसे ज्यादा जख्म पाए गए हैं। टिल्लू का पूरा शरीर चाकुओं से बुरी तरह गोदा गया था।   तिहाड़ जेल प्रशासन के मुताबिक, टिल्लू पर हमला गोगी गैंग के 4 बदमाशों ने किया। वक्त था सुबह के करीब छह बजे। जगह दिल्ली की तिहाड़ जेल। जेल नंबर 9। चूंकि चारों बदमाश जेल नंबर 9 की  फर्स्ट फ्लोर वाली जेल में कैद थे। चारों ने रात में ये प्लानिंग कि कैसे टिल्लू कल यानी मंगलवार को टिल्लू को सुबह-सुबह मारा जाएगा? चूंकि सारे कैदी जेल में जल्दी उठते हैं, लिहाजा सुबह-सुबह हमला करने की प्लानिंग की गई।

प्लानिंग तो टिल्लू पर हमले की बहुत दिनों से चल रही थी। ये देखा गया कि कैसे और कब उसे मारा जाए? इसके लिए सबसे पहले जेल की सलाख़े तोड़ीं गई। सवाल ये उठता है कि कैसे इन्होंने ये सलाखे तोड़ी? सलाखे टूटी होने का पता जेल अधिकारियों क्यों नहीं चला? क्या इन चारों की प्लानिंग के बारे में किसी और कैदी को भी पता था? जेल के सलाखे तोड़ना इतना आसान नहीं होता है। 

ADVERTISEMENT

ये बताया गया है कि इन्होंने सलाखों से नुकीले हथियार बनाए। सवाल ये है कि कैसे इन्होंने सलाखों को नुकीला किया? इसके बाद जो इन्हें ओढ़ने के लिए चादर मिलती है, उसे बांध कर ये बदमाश जेल नंबर 9 के ग्राउंड फ्लोर पर कूद गए। सवाल ये उठता है कि उस वक्त पर जेल नंबर 9 की सुरक्षा में तैनात अधिकारी कहां पर थे? कहा जा रहा है कि आरोपियों को ये पता था कि यही वक्त हमला करने के लिए सबसे उपयुक्त है, क्योंकि इस वक्त अधिकारी एक्टिव नहीं होते हैं।

Tillu Tajpuria:  इन चारों ने लोहे की रोड और सूए से टिल्लू पर हमला कर दिया। हमला सुबह 6:15 बजे किया गया। ये चारों बदमाश जेल नंबर 9 की फर्स्ट फ्लोर पर बंद  थे। इन्होंने ने लोहे की ग्रिल काट कर चादर की मदद से ग्राउंड फ्लोर पर कूदे जहां हाई सिक्योरिटी जेल मे बंद टिल्लू पर इन्होंने हमला किया।

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...