उत्तराखंड के पौड़ी के रिखणीखाल में बाघ ने एक और बुजुर्ग का किया शिकार

ADVERTISEMENT

Tiger hunted another old man in Rikhanikhal, Pauri, Uttarakhand
Tiger hunted another old man in Rikhanikhal, Pauri, Uttarakhand
social share
google news

Uttarakhand Tiger News: उत्तराखंड के पौड़ी जिले के रिखणीखाल क्षेत्र में चार दिनों के अंदर हुयी दूसरी घटना में एक आदमखोर बाघ ने 75 वर्षीय वृद्ध को अपना निवाला बना लिया। वन अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी।

कालागढ़ टाइगर रिजर्व वन प्रभाग से सटे नैनीडांडा ब्लाक के ग्रामसभा उम्टा के सिमली तल्ली गांव में बाघ के हमले में शनिवार को मारे गए रणवीर सिंह नेगी सेवानिवृत्त शिक्षक थे और वह अकेले रहते थे ।

गढ़वाल वन प्रभाग की दीवा रेंज के क्षेत्राधिकारी महेन्द्र सिंह रावत ने 'पीटीआइ— भाषा' को बताया कि गांव से लगभग 300 मीटर दूर अपने मकान में रह रहे नेगी के शनिवार को दिखाई न देने पर चिंतित ग्रामीणों ने उन्हें फोन लगाया तो वह बंद आ रहा था ।

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

रविवार को भी जब उनका फोन नहीं लगा तो ग्रामीण उनके घर पर पहुंचे लेकिन वह घर पर नहीं मिले। अनहोनी की आशंका से डरे ग्रामीणों ने जब उनकी खोजबीन शुरु की तो उनका अधखाया शव घर से करीब 150 मीटर दूर झाड़ियों में पड़ा मिला।

इस बीच, देहरादून में रहने वाले नेगी के परिजन भी गांव पहुंच गए।

ADVERTISEMENT

सूचना पर मौके पर पहुंची मेडिकल टीम ने गांव में ही पोस्टमार्टम करने के बाद शव परिजनों को सौंप दिया ।

ADVERTISEMENT

रावत ने बताया कि मृतक आश्रित को वन विभाग की तरफ से चार लाख रू मुआवजा दिया जाएगा।

चार दिन पहले भी क्षेत्र के डला गांव में बाघ ने एक बुजुर्ग को अपना शिकार बनाया था । ताजा घटनास्थल पहली वारदात की जगह से केवल 25 किलोमीटर दूर है।

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT