दिल्ली में तीन साल की बच्ची की अपहरण के बाद हत्या, पड़ोसी ने किया किडनैप, दलदली नाले में फेंका शव

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

दिल्ली में एक शख्स ने अपने पड़ोस में रहने वाली तीन साल की एक बच्ची का अपहरण कर लिया। आरोपी ने बच्ची की हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि लड़की का शव एक नाले में पाया गया और पुलिस ने एनकाउंटर के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के मुताबिक, यह घटना बुधवार शाम की है जब बच्ची के परिवार ने कापसहेड़ा इलाके से अपनी बेटी के अपहरण की सूचना दी।

3 साल की मासूम को किया किडनैप 

दक्षिण-पश्चिमी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त रोहित मीणा ने कहा, ‘‘खबर मिलने पर फौरन पुलिस की टीम को मौके पर भेजा गया। बच्ची की मां ने पुलिस को बताया कि वे पिछले पांच साल से यहां किराए के मकान में रह रहे हैं। परिजनों ने पुलिस को बताया कि उनकी बेटी घर के बाहर खेल रही थी और शाम करीब छह बजे पड़ोसी ने उसकी बेटी का अपहरण कर लिया।

घर के सामने खेल रही थी 3 साल की मासूम

बच्ची की मां की शिकायत के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई और लड़की और आरोपी का पता लगाने के लिए बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान शुरू किया गया। डीसीपी ने बताया कि पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की जांच की। तो एक कैमरे में शाम 7.05 बजे आरोपी बच्ची के साथ नाले की ओर जाता दिखा। उसी कैमरे में वह शाम करीब 7.25 बजे बच्ची के बिना अकेले लौटते हुए दिखा। उन्होंने बताया कि आरोपी 34 साल के अनिल का पता लगाया गया और उसी रात करीब 11.55 बजे उत्तर प्रदेश के कानपुर की ओर जा रही एक बस से उसे हिरासत में ले लिया गया।

ADVERTISEMENT

मर्डर कर नाले में फेंका शव

आरोपी अनिल से पूछताछ की गई और शुरू में उसने अपहरण में किसी भी तरह की शामिल होने से इनकार किया। लेकिन, लगातार सख्तीसे पूछताछ के दौरान उसने कत्ल की बात कबूल ली। अनिल ने बताया कि उसने लड़की की हत्या कर उसे गुड़गांव और कापसहेड़ा की सीमा पर एक दलदली नाले में फेंक दिया। पुलिस ने कहा कि इसके बाद अनिल पुलिस की टीम को नाले तक ले गया, जहां पुलिस ने तलाशी अभियान चलाया। उन्होंने कहा कि अपराध और फोरेंसिक विज्ञान प्रयोगशाला (एफएसएल) की टीम भी मौके पर बुलाये गये।

पड़ोसी ने तीन साल की बच्ची की कर दी हत्या

पुलिस उपायुक्त ने कहा, ‘‘अंधेरे में एक घंटे से अधिक समय तक चले लंबे तलाशी अभियान के बाद आखिरकार लड़की का शव दलदली नाले में मिला। उसी समय, आरोपी को भागने का मौका मिल गया। उसने पुलिस के एक अधिकारी की सर्विस रिवॉल्वर छीन ली, हिरासत से भागने की कोशिश की और पुलिस टीम पर गोलीबारी की। पुलिस ने आत्मरक्षा में गोली चलाई। आरोपी को तुरंत इंदिरा गांधी अस्पताल ले जाया गया। पुलिस उपायुक्त मीणा ने कहा, ‘‘एफएसएल और क्राइम ब्रांच की टीम ने शव की जांच की। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया और अब वह न्यायिक हिरासत में है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस इस मामले की जांच सभी एंगल से कर रही कि कहीं बच्ची का यौन शोषण तो नहीं किया गया है।

ADVERTISEMENT

(PTI)

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT