Doda Terror Attack: तीन दिन में तीसरा हमला, आतंकियों ने Joint Checkpost को बनाया निशाना, 6 जवान घायल

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Doda, Jammu and Kashmir: रियासी में बस पर हुए आतंकी हमले की गुत्थी अभी सुलझ भी नहीं पाई थी कि घाटी में एक के बाद एक दो और आतंकी हमले हो गये। कठुआ में आतंकियों ने मुंह की खाई मगर उसके ठीक बाद आतंकियों ने डोडा में आर्मी की Joint Check Post को निशाना बनाया। तीन दिन के भीतर जम्मू कश्मीर में ये तीसरा आतंकी (Third Terror Attack) हमला है। डोडा के छत्रकला में हुए इस आतंकी हमले में सेना के 6 जवान घायल हो गये हैं जबकि एक SPO (Special Police Officer) भी जख्मी हो गया है। हमले की जिम्मेदारी कश्मीर टाइगर नाम के आतंकी संगठन ने ली है। कश्मीर टाइगर, जैश-ए-मोहम्मद का ही फ्रंट बताया जाता है। 

आधी रात के बाद Encounter

सेना के अधिकारियों के मुताबिक मंगलवार और बुधवार की दरम्यानी रात को करीब 1.45 बजे छत्रकला में सेना और पुलिस ने एक मुहिम के तहत आतंकियों को मुंहतोड़ जवाब दिया। इससे पहले जम्मू के एडीजीपी आनंद जैन ने बताया था कि गोलीबारी में एक आतंकवादी मारा गया है जबकि एक नागरिक घायल हुआ है। सेना के अधिकारियों ने कहा है कि अब इलाके को सैनाटाइज कर लिया गया है। लेकिन सेना का ऑपरेशन अब भी जारी है। सेना के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर हैं और फिलहाल इलाके में फायरिंग नहीं हो रही है। 

Doda Terrer Attack
डोडा में एनकाउंटर के दौरान सेना का एक सिपाही जख्मी हुआ

आतंकियों ने पानी मांगा

स्थानीय लोगों ने बताया कि हमने आतंकियों को देखा था। एक महिला ने बताया कि "उन्होंने हमसे पानी मांगा था, लेकिन हमें उन पर शक हो गया लिहाजा हमने पानी देने से इनकार कर दिया। गांव में रातभर लोग खौफजदा रहे, जिस वजह से गांव में कोई सो नहीं पाया। हम अभी भी डरे हुए हैं।" बता दें कि डोडा में ये आतंकी हमला कठुआ जिले में एक घर पर आतंकियों की ओर से की गई गोलीबारी के बाद सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में एक आतंकवादी के मारे जाने के कुछ घंटों बाद हुआ है. एक तरफ जहां रियासी में सुरक्षाबलों ने जंगलों को चारों ओर से घेर लिया है. वहीं, कठुआ और डोडा में भारी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है। 

ADVERTISEMENT

Doda Attack
हमले के लिए टीआरएफ ग्रुप ने ली जिम्मेदारी

TRF ग्रुप ने ली जिम्मेदारी

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस हमले के लिए लश्कर से जुड़े आतंकी समूह TRF ने इस हमले की जिम्मेदारी ली। ये आतंकी पिछले एक महीने में राजौरी और पुंछ में कई हमले कर चुके हैं. सूत्रों का कहना है कि इस हमले में दो से तीन आतंकी शामिल थे. रियासी में तीर्थयात्रियों की बस पर हमला करने वाले आतंकी पाकिस्तानी थे 

जंगल की तरफ भागे आतंकी

इससे पहले जम्मू कश्मीर के कठुआ में भी आतंकी हमला हुआ था। बताया जा रहा है कि यहां कुछ आतंकियों ने हवाई फायरिंग की और जंगलों की ओर भाग गए। इसकी जानकारी मिलने पर सुरक्षाबलों की टीम मौके पर पहुंची और इलाके को चारों ओर से घेर लिया। सुरक्षाबलों ने अपनी कार्रवाई में एक आतंकी को ढेर कर दिया।

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...