Noida में फिर AC में ब्लास्ट, इमरजेंसी टीम ने 17वीं मंजिल पर फंसे परिवार के 3 लोगों की बचाई जान

Crimetak

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

श्रेया भूषण की रिपोर्ट
 

नोएडा: गर्मी के इस पीक सीजन के दौरान एसी में ब्लास्ट का सिलसिला रुकने का नाम नहीं ले रहा। राजधानी दिल्ली और एनसीआर में इस सीजन में एक के बाद एक ब्लास्ट की कई खबरें आ चुकी हैं। इस बार हादसा नोएडा के सेक्टर 119 में एल्डिको आमंत्रण सोसाइटी की 17वीं मंजिल के एक फ्लैट में हुआ। यहां एसी की इनडोर यूनिट में ब्लास्ट होने से आग लग गई। मगर इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ। एक सप्ताह में शहर में एसी ब्लास्ट से लगी आग का ये तीसरा मामला है। फायर ब्रिगेड के अधिकारियों ने बताया कि आग बुधवार रात करीब 9 बजे लगी और तेज हवाओं के चलते कुछ ही देर में बालकनी तक फैल गई।

इमरजेंसी टीम ने बचाई जान

हालांकि इस हादसे का एक सकारात्मक पहलू ये रहा कि सोसायटी की सजग इमरजेंसी टीम ने फायर ब्रिगेड के पहुंचने से पहले ही आग पर काबू पा लिया। इस दौरान आग बुझाने की कोशिश करने वाले दो गार्ड घायल हो गए। सोसायटी की अपार्टमेंट ओनर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष निखिल सिंघल ने बताया कि सिक्योरिटी गार्ड अतुल कुमार ने लिफ्ट लॉबी में खिड़की तोड़ने की कोशिश की तो उनका हाथ कांच के टुकड़े लगने से जख्मी हो गया। जबकि दूसरे सिक्योंरिटी गार्ड देवेंद्र कुमार का पैर आग बुझाने की कोशिश में झुलस गया। फ्लैट में भरे धुएं को बाहर निकालने के लिए जब इस गार्ड ने कांच की खिड़की तोड़ी तो इसमें उसका हाथ भी जख्मी हो गया। सिंघल ने बताया, "दोनों गार्डों का इलाज करवा उन्हें मेडिकल लीव पर भेज दिया गया है। गनीमत रही कि गश्त कर रहे एक गार्ड ने बालकनी से निकलती आग की लपटें देख लीं और फौरन इसकी सूचना वॉकी-टॉकी पर दूसरों को दे दी।"

ADVERTISEMENT

आग की चपेट में आए थे तीन परीवार

सोसाइटी के एलर्ट प्रबंधन ने फौरन बिल्डिंग की एलपीजी गैस सप्लाई और बिजली बंद कर दी। जिस फ्लैट में आग लगी थी उसके अंदर से परिवार के तीन सदस्यों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। आग को दमकल की गाड़ियों के पहुंचने से पहले ही 20 से 25 मिनट में बुझा लिया गया। सिंघल ने कहा कि सिक्योंरिटी गार्ड अतुल और देवेंद्र सहित पूरी इमरजेंसी टीम को स्वतंत्रता दिवस पर सम्मानित किया जाएगा। अध्यक्ष ने कहा- “उन्होंने अपनी सुरक्षा के बारे में सोचे बिना प्राथमिकता पर आग बुझाई। इस घटना ने हमें सिखाया है कि अगर आप सतर्क रहें तो किसी भी स्थिति को काबू कर सकते हैं।” चीफ फायर ऑफिसर के मुताबिक उन्हें आग लगने की सूचना रात 9 बजे के आसपास सोसायटी के एक निवासी ने फोन पर दी थी। सीएफओ के मुताबिक “हम पांच दमकल गाड़ियों के साथ सोसायटी पहुंचे। पर जब तक हम पहुंचे, सोसायटी की अपनी इमरजेंसी टीम ने आग बुझा दी थी।”
 

एसी में ब्लास्ट का नोएडा में तीसरा हादसा

“30 मई को सेक्टर 100 के लोटस बुलेवार्ड के एक फ्लैट में एसी ब्लास्ट के कारण आग लग गई थी। यहां भी सोसायटी की अपनी इमरजेंसी टीम ने दमकल कर्मियों के पहुंचने से पहले ही आग बुझा दी थी। कुछ दिन बाद – 1 जून को – एसी से लगी ऐसी ही आग सेक्टर 63 के एक आईटी ऑफिस में भी लगी थी। यहां भी कोई हताहत नहीं हुआ था।

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...