दौड़ा दौड़ाकर मारी फाइनेंसर को गोली, 200 मीटर तक फैला मिला खून और खोखे, ईंट से मारकर चेहरा भी बिगाड़ा

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

न्यूज़ हाइलाइट्स

point

फाइनेंसर को दौड़ा दौड़ाकर मारी गोलियां

point

200 मीटर तक फैला मिला खून और कारतूस के खोखे

point

पैसों के लेन देन को लेकर रंजिश का अंदेशा

Rohtak, Haryana: हरियाणा में बदमाशों का भौकाल जस का तस नजर आ रहा है। कोई भी गुंडा बदमाश या गैंग्स्टर (Gangster) जब चाहता है जिसे चाहता है और जैसे चाहता है, अपना शिकार बनाकर बड़ी ही आसानी से निकल जाता है और पुलिस बस दिखावे का फर्ज अदायगी करते हुए लकीर पीटती दिखाई पड़ती है। असल में ताजा वारदात इसी बात की एक बनागी भर है। क्योंकि रोहतक में एक फाइनेंसर को गुंडों ने दौड़ा दौड़ाकर गोली मारी और कोई कुछ नहीं कर सका। बदमाशों ने फाइनेंसर (Financer) को मौत के घाट उतारने के बाद बड़ी आसानी से वहां से रवानगी डाल दी और बाद में पुलिस आकर लकीरों और गुनाहों के निशान देखने और बटोरने में लगी रही। 

200 मीटर तक फैला खून और खोखे

इस वारदात के बारे में जब पुलिस को पता चला तो मौके पर पहुँचकर उसने तमाम सुराग और सबूत इकट्ठा किए। पुलिस को छह खोखे मिले जो करीब 200 मीटर के दायरे में फैले हुए थे। मिला जानकारी के मुताबिक रोहतक के गांव सुनारिया कलां के रहने वाले देवेंद्र ने शिवाजी कॉलोनी थाने में शिकायत दर्ज करवाई कि उनके 29 साल के बेटे रवि की गोली मारकर हत्या कर दी गई। पुलिस के पास पहुँची शिकायत पर गौर किया जाए तो मामला बेहद संगीन हो जाता है। खुलासा ये है कि सोमवार की शाम करीब साढ़े पांच बजे रवि के घर पर एक शख्स आया और कहने लगा कि पुरानी शुगर मिल के पास खाली प्लॉट में रवि की लाश पड़ी है। घरवालों ने जाकर देखा तो वहां खून से लथपथ लाश पड़ी थी। 

दौड़ा दौड़ा कर मारी छह गोलियां

बताया जा रहा है कि रवि के शरीर पर सिर्फ गोलियों के ही निशान नहीं बल्कि पत्थरों से भी मारे जाने के निशान नज़र आ रहे हैं। पुलिस की शुरुआती तफ्तीश पर यकीन किया जाए तो रवि को बदमाशों ने दौड़ा दौड़ाकर गोली मारी। पुलिस की छानबीन का खुलासा है कि रवि को पहली गोली कम्यूनिटी सेंटर के पास मारी गई। जब बचने के लिए रवि वहां से भागा तो बदमाशों ने उसे दौड़ाकर गोलियां मारी। पुलिस को करीब 200 मीटर तक खून के निशान और गोलियों के खोखे मिले हैं। 

ADVERTISEMENT

ईंट से चेहरा भी बिगाड़ा

रवि फाइनेंस का काम करता है। घरवालों का शक है कि रवि का प्रह्लाद राठी नाम के शख्स के साथ पैसों का लेन देन था। और ऐसे में रवि की हत्या के पीछे उसी का हाथ माना जा रहा है। घरवालों ने पुलिस के सामने शक जाहिर किया है कि प्रह्लाद राठी ने अपने भाई कृष्ण राठी के साथ मिलकर रवि को न सिर्फ गोलियों से भून डाला बल्कि उसे ईंट से भी मारा है। क्योंकि पुलिस को मौके से खून से एक ईंट भी मिली है। पुलिस ने प्रह्लाद राठी और उसके भाई के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज कर ली है लेकिन फिलहाल प्रह्लाद और उसका भाई फरार हैं। पुलिस का दावा है कि वो जल्दी ही आरोपियों को पकड़ लेंगे। पुलिस ने मौके से सबूत और सुराग तो इकट्ठा कर लिए हैं। 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...