बेटे की चाहत में हैवान बना परिवार, नवजात जुड़वां बच्चियों की हत्या के बाद शव जमीन में गाड़ दिए! पुलिस ने कब्र से निकाले शव

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Delhi Crime: बेटा हो या बेटी, आजकल सब बराबर हैं, ये बात सुनने और सुनाने में बहुत अच्छी और तरक्कीपसंद मालूम पड़ती है। लेकिन जमीनी हकीकत शायद इससे कोसों दूर है तभी तो देश की राजधानी दिल्ली से जो किस्सा सामने आया वो दिल दहला देता है। अक्सर ऐसा किस्से कहानियों और फिल्मों में जरूर देखने को मिल जाता है कि बच्चियों के पैदा होने पर पति उनसे नफरत करता है और फिर उन्हें मारने की कोशिश में लग जाता है मगर यहां इस परिवार ने इस फिल्मी कहानी को जमीन पर उतारा। बेटे की चाह में इस परिवार ने दो नवजात बच्चियों (Newborn Babies) को न सिर्फ मां से छीन लिया बल्कि उन दोनों को मारकर जमीन में गाड़ दिया। 

जुड़वां बच्चियों की मां ने लिखाई FIR

लेकिन इस मामले में जब बच्चियों की मां पूजा सोलंकी की तरफ से शिकायत दर्ज करवाई गई तब जाकर दिल्ली पुलिस हरकत में आई। और इस सिलसिले में FIR दर्ज करने के बाद पहली गिरफ्तारी की। जिसे गिरफ्तार किया गया वो पूजा का ससुर विजेंदर सोलंकी है। जबकि दोनों बच्चियों का पिता नीरज सोलंकी और घर के बाकी लोग फरार हैं। पुलिस उन्हें पकड़ने के लिए लगातार छापामारी कर रही है। टाइम्स ऑफ इंडिया में छपी खबर के मुताबिक ये किस्सा बाहरी दिल्ली के पूठ कलां गांव का है। पुलिस ने रविवार को पीड़ित पूजा सोलंकी का बयान भी दर्ज कर लिया है। और उस बयान के मुताबिक जो किस्सा सामने आया वो दिल दहलाने वाला है। 

एक मां की दर्द भरी दास्तां

FIR के मुताबिक पीड़ित पूजा हरियाणा के रोहतक जिले के मैला गांव की रहने वाली है। पुलिस को दिए बयान के मुताबिक साल 2022 में पूजा की शादी पूठ कलां के रहने वाले नीरज सोलंकी से हुई थी। शुरु शुरू में नीरज और उसके घरवाले पूजा को दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। साथ ही इस बात की धौंस भी देते थे कि अगर बेटा पैदा नहीं हुआ तो उसका हश्र बहुत बुरा होगा। डरी सहमी पूजा जैसे तैसे अपने दिन काट रही थी, इसी बीच उसके गर्भवती होने की खबर जैसे ही सामने आई तो उसके पति और ससुराल के लोगों ने गर्भ में पल रहे बच्चों का लिंग परीक्षण कराने का दबाव डाला।

ADVERTISEMENT

पति Abortion कराने के फेर में था

महिला का पति जानना चाहता था कि पेट में पल रहे बच्चे असल में लड़का है ये लड़की। और जब लिंग परीक्षण से उन्हें पता चला कि गर्भ में जुड़वा बच्चे हैं और दोनों ही लड़कियां हैं तो घरवाले उसका गर्भपात (Abortion) कराने पर आमादा हो गए। परिवार के लोगों से बचने के लिए पूजा अपनी बच्चियों की जान बचाने के लिए अपने ससुराल से ही भाग गई। और मायके में जाकर रहने लगी। 30 मई को पूजा ने जुड़वा बच्चियों को रोहतक के एक अस्पताल में जन्म दिया। जुड़वा बच्चियों के पैदा होने की इत्तिला मिलने के बाद नीरज सोलंकी का पूरा परिवार दुखी हो गया। इस बीच 1 जून को पूजा को अस्पताल से छुट्टी मिल गई और तो वो अपने मायके में आकर रहने का इरादा कर चुकी थी।

बहाने से मां से छीन ली बच्चियां

लेकिन पूजा के पति नीरज और परिवार के बाकी लोग अस्पताल पहुँचे और इस वायदे के साथ उसे मनाकर अपने साथ दिल्ली ले आए कि वो अब बच्चियों की अच्छे ढंग से देखभाल करेंगे। इसके बाद नीरज ने दोनों बच्चियों को अपने साथ एक कार में लेकर चल दिया जबकि पूजा अपने भाई के साथ दूसरी कार में उसके पीछे पीछे आ रहे थे। रास्ते में अचानक नीरज ने अपनी कार का रास्ता ही बदल दिया और घर जाने की बजाए कहीं और चला गया। रास्ते में जब पूजा के भाई जुगनू खत्री ने नीरज से संपर्क करने की कोशिश की तो उसने फोन ही नहीं उठाया। तब जुगनू ने नीरज के पिता विजेंद्र सोलंकी को फोन पर बताया कि नीरज बच्चियों को साथ लेकर निकला है, और रास्ते में दोनों अलग अलग हो गए हैं ऐसे में अगर वो पूठकलां पहुँच जाए तो बता दें। इस पर विजेंद्र ने बताया कि नीरज घर पहुँच गया है और जल्दी ही बच्चियों को लेकर रोहतक निकलने वाला है। 

ADVERTISEMENT

बच्चियों की बीमारी का बनाया बहाना

पूजा ने अपने बयान में पुलिस को बताया कि उसने अपनी बच्चियों को ढंग से देखा तक नहीं था, लेकिन उसका पति उन दोनों बच्चियों को उनसे छीनकर ले गया और उसने उन्हें मारकर जमीन में दफ्न कर दिया, उसके ही पति ने उसकी कोख उजाड़ दी। हैरानी की बात ये है कि उसने बाद में पूजा को ये कहकर बरगलाने की कोशिश की कि रास्ते में ही बच्चियों की तबीयत खराब हो गई थी और रास्ते में ही दोनों ने दम तोड़ दिया था। इसलिए उन्हें दफ्न कर दिया। 

ADVERTISEMENT

फरार लोगों की तलाश में पुलिस

पूजा को जब शक हुआ तो उसने पुलिस से संपर्क किया तब जाकर उसे ये सारी बात पता चली कि बच्चियों को मारकर उसके ही पति ने उन्हें दफ्न कर दिया है। पुलिस ने बच्चियों के शव बरामद कर लिए हैं और अब उनका परीक्षण किया जा रहा है। साथ ही पुलिस अब नीरज समेत उसकी मां और घर के बारी लोगों की तलाश में जुटी हुई है। 
 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...