Rohtak: महिला कैदी को बेहोश कर इन दो कैदियों ने पुलिस की गाड़ी में ही लूट ली उसकी इज्जत

ADVERTISEMENT

Crime Tak
Crime Tak
social share
google news

Rohtak: पुरानी कहावत है कि कुत्ते की दुम कभी सीधी नहीं होती। इस कहावत को एक बार फिर सही साबित किया हरियाणा के जींद जिला जेल में बंद दो कैदियों ने। इन दो कैदियों मनीष और सतीश ने जेल जाने के बावजूद न सुधरने की कसम खाई लगती है। तभी तो इन पर अब उसी जेल में बंद एक महिला कैदी के साथ गैंगरेप करने का आरोप लगा है। ये महिला नशीले पदार्थों की तस्करी के आरोप में जींद जिला जेल में बंद थी।

कोल्ड ड्रिंक में नशा देकर किया गैंगरेप

दरअसल हुआ यूं कि जींद जेल में बंद तीन कैदियों को इलाज के लिये रोहतक पीजीआई अस्पताल ले जाया गया। इनमें से दो कैदी तो मनीष और सतीश थे मगर तीसरी उसी जेल में बंद एक महिला कैदी थी। आरोप है कि इन दोनों ने कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिला कर उस महिला कैदी को पिलाया और उसके होश खोते ही उसकी इज्जत लूट ली। ये सब तब हुआ जब पुलिसवाले रोहतक पीजीआई के बाहर प्रिजनर वैन को खड़ा कर कैदियों के इलाज के लिये जरूरी कागजात बनवा रहे थे। 

खुदकुशी की कोशिश कर चुकी है रेप पीड़िता

जींद पुलिस ने इस सम्बंध में थाना सिविल लाइन्स में जीरो एफआईआर दर्ज कर रोहतक पुलिस को भेज दी है। वारदात रोहतक PGI में हुई इसलिए आगे की कार्रवाई भी वहीं से होगी। पुलिस की शुरुआती जांच में ये भी सामने आया कि आरोप लगाने वाली महिला कैदी डिप्रेशन की मरीज है। जिसके चलते वो इससे पहले जेल में जान देने की कोशिश कर चुकी है। उसके खिलाफ खुदकुशी की कोशिश का मामला भी दर्ज है। 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT