बेटी ने दूसरी जाति में शादी की तो पिता ने छपवा दी शोक पत्रिका, बेटी को मरा मान करवाया मुंडन, दे डाला मृत्यु भोज!

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Udaipur: लोग भी अजीब-अजीब हरकतें करते हैं। ताजा वाकया राजस्थान के उदयपुर का है। यहां गोगुन्दा कस्बे में एक पिता ने अपनी जिंदा बेटी की शोक पत्रिकाएं छपवा दी। सिर्फ इतना ही नहीं, दुखी परिवार के सदस्यों ने मुंडन भी करवा लिया। इसके बाद मृत्यु भोज का आयोजन किया। वजह थी कि बेटी ने परिवार की मर्जी के बिना दूसरी जाति के लड़के के शादी रचा ली थी। लड़की के पिता के आत्म-सम्मान को ठेस पहुंची जिसके बाद उन्होंने इसका बदला इस ढंग से लिया। 

बेटी ने की थी दूसरी जाति के लड़के से शादी

जिले के सायरा इलाके के एक गांव में ये घटना हुई। लड़के के प्रेम में पड़ी बेटी ने दूसरी जाति में शादी कर ली। फिर उसी लड़के के साथ भाग गई। फिर क्या था पिताजी नाराज तो हुए ही इस घटना की शिकायत उन्होंने पुलिस से भी कर डाली। जैसे-तैसे पुलिस ने लड़की को खोज निकाला। इसके बाद बेटी को पिता के सामने पेश किया गया। मगर पिता को उस वक्त जबरदस्त धक्का लगा जब बेटी ने परिजनों को पहचानने से इनकार कर दिया। पिता के आत्म-सम्मान को जबरदस्त ठेस पहुंची। 

पत्रिकाएं छपवाई, मृत्यु भोज का आयोजन किया

इसी के बाद आहत हुए लड़की के पिता ने अपनी बेटी को जीते जी मार डाला। उन्होंने शोक पत्रिका छपवा कर पूरे गांव में बंटवा दी। परिजनों ने मुंडन की रस्म अदा कर क्रियाकर्म पूरा किया और बेटी के नाम पर बाकायदा मृत्यु भोज दे डाला। इस मौके पर परिवार को सांत्वना देने के लिए कई रिश्तेदार भी जुटे। जाहिर है बालिग बेटी अपनी मर्जी से शादी कर पति के साथ रहना चाहती थी और चूंकि चुनाव पति और पिता के बीच किसी एक का करना था उसने अपने पति को चुन कर अपने परिवार से हमेशा के लिये नाता तोड़ लिया। नाराज परिवार ने भी पिता के कहने पर उसे मरा मान धार्मिक रीति रिवाज पूरे कर अपने कर्तव्यों की इतिश्री कर ली।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT