Rajasthan: बीहड़ में बीफ मंडी, ऑनलाइन डिलीवरी... पूरा थाना लाइन हाजिर, 42 पुलिसवाले नपे! IG का सख्त एक्शन

ADVERTISEMENT

Rajasthan Beef market and Cow slaughter News
Rajasthan Beef market and Cow slaughter News
social share
google news

संतोष शर्मा के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट

Rajasthan Beef market and Cow slaughter News: गांव और बीहड़ों में बीफ मंडी चल रही थी। गोकशी जारी थी। इसकी जानकारी जयपुर रेंज के आईजी को लगी। उन्होंने खुद ही मोर्चा संभालने का मन बना लिया। तुरंत वो अपने स्टाफ के साथ तीन-चार जिलों में सच्चाई तलाशने के लिए निकल पड़े। साथ में अलग-अलग जिले के एसपी भी मौजूद थे। आईजी का काफिला पहुंचा रूंध गीदावड़ा गांव में। यहां सर्च ऑपरेशन चलाया गया, जहां रात 9 बजे तक पुलिस का सर्च कॉम्बिग जारी रही। जिस जगह खुलेआम प्रतिबंधित मांस बेचा जा रहा था, वहां बीहड़ जैसा नजारा है। मिट्टी के ऊंचे-ऊंचे टीले साथ ही पहाड़ी इलाका होना गो तस्करों सहित प्रतिबंधित मांस की मंडी लगाने वालों के लिए एक सुरक्षित पनाहगाह है।

मौके पर पहुंचे आईजी की आंखें फटी की फटी रही गई। मौके पर गोकशी के सबूत मिले। आईजी जयपुर रेंज उमेश चंद्र दत्ता ने बीती शाम किशनगढ़बास और रामगढ़ क्षेत्र के बीच में पहाड़ी और रेतीले टीलों के बीच अवैध गोकशी के ठिकानों पर दबिश दी। आईजी साहब को गुस्सा आ गया। उन्होंने किशनगढ़बास थाने के पूरे स्टाफ को लाइन हाजिर कर दिया। कुल 38 पुलिसवालों  को लाइन हाजिर किया गया। इस मामले में प्रारंभिक तौर पर संलिप्त पाए जाने पर चार पुलिसकर्मियों - ASI ज्ञानचंद, हेड कॉन्स्टेबल रघुवीर, बीट कॉन्स्टेबल स्वयं प्रकाश और रविकांत को निलंबित कर दिया।

ADVERTISEMENT

इस मामले की निष्पक्ष जांच के लिए कोटपुतली बहरोड़ जिले के एएसपी नेमीचंद को मामले की जांच सौपी गई है।

सर्च ऑपरेशन में 12 बाइक और एक पिकअप भी बरामद हुआ। ये जानकारियां मिल रही थी कि खैरथल और अलवर जिले के मेवात इलाके में बीफ की मंडी खुलेआम लग रही है। यहां तक कि इनकी होम डिलीवरी भी हो रही थी। दावा किया जा रहा है कि बलरामपुर व रूंध के गीदावड़ा गांव में बीफ की मंडी का बड़ा कारोबार हो रहा है। रोज 20 से अधिक गायों को अवैध रूप से काट कर बीफ की सप्लाई की जा रही थी। सवाल ये उठता है कि आखिर इस कारोबार की खबर पुलिस तक क्यों नहीं पहुंच रही थी या पहुंच रही थी तो पुलिस ने क्यों एक्शन नहीं लिया? 
 

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT