''केंद्र सरकार को सर्जिकल स्ट्राइक का प्रूफ दिखाना चाहिए''

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

PULWAMA ATTACK STORY : पुलवामा हमले के तीन साल बीतने के बाद अब भी सबूत मांगा जा रहा है। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने कहा है, ''केंद्र सरकार को सर्जिकल स्ट्राइक का प्रूफ दिखाना चाहिए। इसमें क्या गलत है? लोगों में आशंकाएं हैं, बीजेपी दुष्प्रचार करती है, इसलिए लोग सबूत मांग रहे हैं और वे भी सबूत मांग रहे हैं।''

दरअसल इस घटनाक्रम की शुरुआत असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा के एक बयान से हुई। हिमंता सरमा ने कहा, 'राहुल गांधी ने सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांगा, इनकी मेंटिलिटी देखिए, जनरल विपिन रावत हमारे देश के गौरव थे, उनके नेतृत्व में भारत ने पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक किया, लेकिन राहुल गांधी बोलते हैं कि प्रूफ दो, क्या हमने कभी प्रूफ मांगा कि आप राजीव गांधी के बेटे हैं या नहीं'?

असम सीएम के इस बयान पर कांग्रेस समेत कई पार्टी के नेताओं ने तीखी प्रतिक्रिया दी। केसीआर ने इसी की प्रतिक्रिया में कहा कि राहुल ने सर्जिकल स्ट्राइक का सबूत मांग कर कुछ गलत नहीं किया।

ADVERTISEMENT

देश आज पुलवामा जयंती की बरसी मना रहा है। 14 फरवरी 2019 को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ जवानों के काफिले पर हमला किया था। इस हमले में 40 से ज्यादा जवान शहीद हो गए थे। भारत ने 2016 में पाकिस्तान के कब्जे वाले में सर्जिकल स्ट्राइक किया था और दर्जनों आतंकियों को मार गिराया था और आतंकियों के कई लॉन्च पैड ध्वस्त किए थे। इससे पहले जम्मू-कश्मीर के उरी में पाकिस्तानी आतंकियों ने सेना के कैंप में रात के अंधेरे में कायराना हमला किया था। इस हमले में 19 जवान शहीद हो गए थे।

Pulwama Attack : पुलवामा आतंकी हमले की बरसी

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...