बरेली जेल की तस्वीरों ने उमेश हत्याकांड की साजिशों को किया बेपर्दा

ADVERTISEMENT

बरेली जेल की तस्वीरों ने सामने आकर अतीक के गैंग की सारी पोल खोल दी
बरेली जेल की तस्वीरों ने सामने आकर अतीक के गैंग की सारी पोल खोल दी
social share
google news

अब ये बात छुपी नहीं रह गई है कि अतीक अहमद और उसके साथियों ने मिलकर प्रयागराज में उमेश पाल ही हत्या की साजिश जेल में ही रची थी। जिस साजिश की खबर काफी समय से फिजा में तैर रही थी उसकी तस्दीक करता हुआ एक वीडियो भी सामने आ गया है। वीडियो यूपी के बरेली जेल का।  

बरेली जेल के भीतर मिलाई के लिए जाता हुआ दिखा गुड्डू मुस्लिम और गेट पर दिख रहा है असद

वीडियो में माफिया अतीक अहमद का बेटा असद नजर आ रहा है। उमेश पाल हत्याकांड का बमबाज गुड्डू मुस्लिम दिख रहा है। शूटर गुलाम हसन भी असद और गुड्डू बमबाज के साथ इस वीडियो में है। साथ में है सदाकत।
इस वीडियो में मुलाकाती की तरह उमेश पाल हत्याकांड के आरोपी लाइन में खड़े नजर आ रहे हैं। इनमे से 2 लोगो को जिनके हाथ में खाने का थैला था उनको सिपाही अलग ले जाता है। 

जेल के भीतर आता हुआ नज़र आया असद और उसके साथी

अलग खड़े 3 लोगो में सबसे आगे सफेद लाइनिंग शर्ट में शूटर अरमान बिहारी, लाल टी शर्ट में इनका स्थानीय मददगार और सबसे पीछे सिर पर सफेद गमछा बांधे शूटर साबिर है।वहीं खाना लाने वाले 2 लोगो में पीछे भूरे रंग की जैकेट में सदाकत नजर आ रहा है।
24 फरवरी के सीसीटीवी वीडियो के साथ बरेली जेल के वीडियो को देखने से पता चलता है कि जिस दिन उमेश पाल की हत्या हुई अतीक का बेटा बेखौफ सरेआम गोलियां बरसाता सीसीटीवी में कैद हुआ था। और उस हत्याकांड के तेरह दिन पहले वो काले चश्मे में बरेली जेल में नजर आ रहा है।

ADVERTISEMENT

उमेश पाल की हत्या से पहले की इन तस्वीरों ने साज़िश को बेपर्दा कर दिया


बरेली के जेल में जिस गुड्डू मुस्लिम को सफेद शर्ट में बेहद शांत अंदाज में आम आदमी की तरह जाते देख रहे हैं ये वही गुड्डू मुस्लिम है जो प्रयागराज के धूमनगंज इलाके में उमेश पाल हत्याकांड के वक्त बम फेंक कर दहशत फैला रहा था।
उमेश पाल हत्याकांड के ये आरोपी अतीक अहमद के भाई अशरफ से बरेली जेल में मिलने गए थे। पुलिस सूत्रों के मुताबिक बरेली जेल में ही अशरफ के साथ बैठकर बाकी आरोपियों ने उमेश पाल हत्याकांड की साजिश को फाइनल किया। आजतक को मिली जानकारी के मुताबिक उस रोज अशरफ से नौ लोग मिले थे। इनमें उमेश पाल हत्याकांड का शूटर विजय उर्फ उस्मान भी शामिल है, जो बाद में एनकाउंटर में मारा गया। 
 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...