एक गोली सीने में दूसरी सिर में मारी, हमलावरों ने नारायणपुर में कांग्रेस नेता विक्रम बैस की हत्या की 

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Chhattisgarh: छत्तीसगढ़ के नारायणपुर जिले में अज्ञात हमलावरों ने एक कांग्रेस नेता की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि शहर के बखरूपारा इलाके में अज्ञात हमलावरों ने सोमवार रात 40 साल के विक्रम बैस की गोली मारकर हत्या कर दी। विक्रम बैस विपक्षी दल कांग्रेस से जुड़े थे। वह नारायणपुर जिला इकाई के महासचिव भी थे। बैस नारायणपुर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के निवर्तमान सचिव थे।

पहले सीने में फिर सिर में मारी गोली

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सोमवार रात बैस अपने कार्यालय से मोटरसाइकिल से अपने घर के लिए निकले थे। जब घर के करीब पहुंचे तब मोटरसाइकिल सवार लगभग चार हमलावरों ने उनके सीने पर गोली मार दी। इससे बैस वहीं गिर पड़े। इसके बाद हमलावरों ने उनके सिर पर एक और गोली मारी जिससे बैस की मौके पर ही मौत हो गई। वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर मौके से भाग गए।

कांग्रेस नेता विक्रम बैस की हत्या

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि घटना की सूचना मिलने के बाद घटनास्थल के लिए पुलिस टीम को रवाना किया गया। हमलावरों की तलाश में वाहनों की तलाशी शुरू की गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। कातिलों की तलाश की जा रही है। हमले में नक्सलियों की भूमिका के बारे में पूछे जाने पर नारायणपुर के पुलिस अधीक्षक प्रभात कुमार ने कहा कि शुरुआती जांच में इस घटना में नक्सलियों की भूमिका की जानकारी नहीं मिली है। लेकिन सभी संभावित पहलुओं पर जांच की जा रही है।

ADVERTISEMENT

नक्सलियों की भूमिका से किया इनकार

अंतिम संस्कार से पहले बैस के पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए नारायणपुर कांग्रेस कार्यालय लाया गया। राज्य के पूर्व मंत्री और कांग्रेस नेता मोहन मरकाम ने बैस को श्रद्धांजलि दी तथा सत्ताधारी दल भाजपा पर निशाना साधते हुए दावा किया कि पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा के सत्ता में आने के बाद से असामाजिक तत्व सक्रिय हो गए हैं। मरकाम ने यह भी आरोप लगाया कि राज्य सरकार कांग्रेस और अन्य राजनीतिक दलों के सदस्यों को सुरक्षा देने में विफल रही है।

(PTI)

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT