अंग्रेजी सिखाते सिखाते लेडी डॉन को हुआ था 'लव', तिहाड़ से सेहरा बांधकर निकलेगा गैंग्स्टर

ADVERTISEMENT

गैंग्स्टर काला जठेड़ी और लेडी डॉन अनुराधा की शादी के किस्से की अंडरवर्ल्ड की दुनिया में खासी
गैंग्स्टर काला जठेड़ी और लेडी डॉन अनुराधा की शादी के किस्से की अंडरवर्ल्ड की दुनिया में खासी
social share
google news

Lady Don And Gangster Tied Knot : फरवरी के दूसरे हफ्ते में जब पूरी दुनिया वेलेंटाइन वीक मना रही थी, तभी दिल्ली और हरियाणा के गैंग्स्टर के घर एक प्यार की कहानी परवान चढ़ रही थी। खूंखार गैंग्स्टर के सिंडीकेट में एक तरह से शहनाई बजने की तैयारियां शुरू हो गई थी।  फरवरी खत्म होते होते उस शहनाई की गूंज आखिरकार देश की एक अदालत तक पहुँची और अदालत ने भी रंग में भंग नहीं डाला बल्कि गैंग्स्टर को गाजे बाजे के साथ शादी की रस्म निभाने और उन्हें पूरा करने की कानूनी इजाजत दे दी। ये एक अलग तरह के मिसाल है। 

छटे हुए दो डॉन की प्रेम कथा

असल में ये किस्सा है गैंग्स्टर काला जठेड़ी और लेडी डॉन अनुराधा की शादी का। दोनों एक नंबर के छटे हुए हैं। अपने अपने इलाके में दोनों का खौफ है। अनुराधा अगर राजस्थान में गैंग की कमान संभालने के लिए बदनाम है तो काला जठेड़ी का नाम अक्सर पंजाब के सबसे खतरनाक गैंस्टर लॉरेंस बिश्नोई के सिंडीकेट के तौर पर ही लिया जाता है। 

गैंग्स्टर काला जठेड़ी करने वाला है शादी

तिहाड़ से निकलेगा दूल्हा

दिल्ली की द्वारका कोर्ट ने गैंग्स्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी को कस्टडी पैरोल दी है। काला जठेड़ी 12 मार्च को जेल से बाहर लाया जाएगा और दिल्ली में ही अपनी शादी की रस्म पूरी करगे। इसके बाद अगले रोज यानी 13 मार्च को काला जठेड़ी सोनीपुत में अपने नए घर का गृहप्रवेश के समारोह में शिरकत करेगा। कोर्ट ने 13 मार्च के लिए उसे छह घंटे की कस्टडी पैरोल दे दी है। इस समय संदीप उर्फ काला जठेड़ी तिहाड़ में बंद है। यानी तिहाड़ से काला जठेड़ी एक तरह से सेहरा बांधकर निकलेगा और सीधा मंडप जाकर शादी के फेरे लेगा। 

ADVERTISEMENT

लॉरेंस बिश्नोई का सबसे खास

ये बात तो अब पूरी दुनिया जानती है कि काला जठेड़ी उर्फ संदीप पंजाब के गैंग्स्टर लॉरेंस बिश्नोई का सबसे खास आदमी है। सोनीपत के जठेड़ी गांव का रहने वाला संदीप का गैंग दिल्ली समेत चार राज्यों में ऑपरेट करता है। और इसका नाम पहली बार तब सुर्खियों में आया था जब 2018 में लॉरेंस बिश्नोई ने बॉलीवुड स्टार सलमान खान को जान से मारने की धमकी दी थी। 

पहलवान के मर्डर में आया था नाम

लेकिन संदीप उर्फ काला जठेड़ी उस वक्त पुलिस के हत्थे चढ़ा था जब दिल्ली के जाने माने पहलावान सागर धनखड़ा की हत्या का मामला सामने आया था। उसी हत्याकांड के सिलसिले में मोस्ट वांटेड गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेड़ी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने यूपी के सहारनपुर से गिरफ्तार किया था। 

ADVERTISEMENT

लॉरेंस बिश्नोई का सबसे खास है काला जठेड़ी

पहलवान सुशील कुमार को दी थी धमकी

बताया जाता है कि सागर धनखड़ हत्याकांड में गैंगस्टर काला जठेड़ी का रिश्तेदार सोनू घायल हो गया था। इस पर काला जठेड़ी ने पहलवान सुशील कुमार को भी जान से मारने की धमकी दे दी थी। जाहिर है इस धमकी के बाद पहलवान सुशील कुमार ने जेल अधिकारियों के साथ साथ पुलिस को काला जठेड़ी से अपनी जान का खतरा बताया था। 

ADVERTISEMENT

सात लाख का इनामी काला जठेड़ी

अब जरा काला जठेड़ी के गैंग के बारे में भी समझ लीजिए। गैंगस्टर संदीप उर्फ काला जठेढ़ी के खिलाफ दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, में दर्जनों मामले दर्ज हैं। यहां तक कि उसके ऊपर 7 लाख का इनाम भी है। कहा तो यहां तक जाता है कि उसके ज्यादातर शूटर विदेश में हैं और विदेश में बैठकर शूटर इस गिरोह को चला रहा है। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद ही दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने काला जठेड़ी पर मकोका भी लगा दिया है। 

लेडी डॉन अनुराधा के साथ सात फेरे लेने वाला है गैंग्स्टर काला जठेड़ी

डॉन अनुराधा बनेगी दुल्हनियां

काला जठेड़ी के बाद इस गैंग्स्टर की बनने वाली दुल्हनियां अनुराधा का अतीत भी झांक लेते हैं। असल में लेडी डॉन अनुराधा चौधरी का कि प्रेम कहानी फिल्मी कहानी से किसी भी लिहाज से कम नहीं है। है। गैंगस्टर से मिलना, साथ रहना, जेल जाकर बिछुड़ना और फिर गैंगस्टर के खात्मे के बाद दूसरे गैंग्स्टर के साथ जिंदगी को एक नई शक्ल देना अनुराधा चौधरी के जिन्दगी के ये कुछ ऐसे पड़ाव हैं जो उसकी कहानी को और भी ज़्यादा रोचक बना देते हैं। 

पढ़ने लिखने वाली लेडी डॉन

सीकर जिले में स्थित फतेहपुर के पास गांव अलफासर में जन्मी अनुराधा चौधरी बचपन से ही पढाई में काफी होशियार थी। फतेहपुर के चामड़िया कॉलेज से उसने बीसीए और फिर एमबीए किया। पढाई में काफी होशियार रही अनुराधा चौधरी ने कॉलेज के दिनों में ही परिवार वालों की मर्जी के खिलाफ जाकर अपने प्रेमी दीपक मिंज से शादी कर ली थी। लेकिन उस समय अपराध की दुनिया से दूर दूर तक उसका कोई नाता नहीं था। अनुराधा और दीपक मिंज दोनों ही शेयर मार्केट में काम कर रहे थे और दोनों हाथों से पैसा बटोर रहे थे। सब कुछ अच्छा अच्छा चल रहा था। लेकिन अचानक उनकी जिंदगी में सब कुछ बदलने लगा जब रुपयों के लेनदेन में करोड़ों के धोखाधड़ी करने के उस पर आरोप लगे। 

कदम बहके और जरायम की दुनिया में कदम

अपने सिर पर आए अचानक देनदारी के उस बोझ ने अनुराधा के कदमों को बहका दिया और उसने अपराध की दुनिया से नाता रखने वालों से अपना रिश्ता जोड़ लिया। असल में अपने ऊपर चढ़े कर्ज और इल्जामों की धूल को हटाने के लिए अनुराधा एक हिस्ट्रीशीटर बलवीर बानूड़ा के जरिए राजस्थान के नामी गैंग्स्टर आनंदपाल सिंह से मिली। 

काला जठेड़ी से पहले लेडी डॉन अनुराधा थी गैंग्स्टर आनंदपाल के साथ

आनंदपाल से हो गया प्यार

उस समय आनंदपाल सिंह ने अनुराधा की बड़ी मदद की। असल में आनंदपाल अनुराधा की अंग्रेजी से बड़ा प्रभावित था। अनुराधा फर्राटेदार अंग्रेजी बोलती थी और आनंदपाल का अंग्रेजी में हाथ तंग था। तब आनंदपाल ने अनुराधा से अंग्रेजी बोलना सिखाने का वायदा करवाया। और दोनों अंग्रेजी सीखते सीखते अंग्रेजी प्यार में भी पड़ गए और दोनों बेहद नजदीक आ गए। 

अंग्रेजी सिखाते सिखाते जब अनुराधा को हुआ था 'लव'

जब आनंदपाल से अनुराधा की नजदीकी बढ़ी तो दीपक मिंज ने उससे नाता तोड़ लिया। और अनुराधा खुलेआम आनंदपाल के साथ लिव इन में रहने लगी। इसके बाद आनंदपाल अनुराधा से अंग्रेजी बोलना सीखता और आनंदपाल से अनुराधा ने एके 47 चलानी सीखी। दोनों एक दूसरे को सिखाते सिखाते बहुत दूर निकल चुके थे। गैंगस्टर के साथ रहने पर अनुराधा चौधरी भी अपहरण और लाखों रुपए की वसूली की वारदातों में शामिल होने लगी। लगी। उसके खिलाफ अपहरण, मारपीट, जान से मारने की धमकियां देने सहित कई मुकदमें दर्ज हुए। कुछ ही महीनों में वह राजस्थान की महिला हिस्ट्रीशीटर बन गई। तभी अचानक एक बार फिर अनुराधा की जिंदगी ने करवट ली और 2017 में आनंदपाल का एनकाउंटर हो गया। और इसी बीच अनुराधा भी पुलिस के हत्थे चढ़ गई। 

आनंदपाल के खात्मे के बाद जठेड़ी के संपर्क में 

आनंदपाल के खात्मे के बाद और जेल से छूटने के बाद अनुराधा दिल्ली जाकर रहने लगी। इसी दौरान वो लॉरेंस बिश्नोई गैंग के संपर्क में आई और यहीं से वो काला जठेड़ी के संपर्क में आई और फिर दोनों एक दूसरे के नजदीक भी आ गए। बताया जा रहा है कि पिछले छह साल से अनुराधा काला जठेड़ी के संपर्क में है और दो साल से दोनों लिव इन में रह रहे थे। मगर अब अनुराधा और काला जठेड़ी ने तय किया कि वो अब अपने रिश्ते को एक नाम देना चाहते हैं। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद से ही काला जठेड़ी ने तय किया कि अब वो जेल से बाहर आते ही अनुराधा के साथ शादी कर लेगा। और अब उसकी इस मर्जी पर खुद अदालत ने भी मुहर लगा दी है। 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT