Neet 2024: नीट घोटाले की सीबीआई जांच की मांग, डॉक्टरों ने हड़ताल की धमकी दी

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

श्रेया भूषण की रिपोर्ट

NEET UG 2024 Results: जब से NEET 2024 का रिजल्ट घोषित हुआ है, तब से इस पर हंगामा मचा हुआ है. कई छात्रों और संगठनों ने इसमें धांधली का आरोप लगाया है. मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है. इस बीच, IMA जूनियर डॉक्टर्स ने NEET परीक्षा को लेकर बड़ी मांग की है. जानिए पूरा मामला.

NEET यानी नेशनल एलिजिबिलिटी एंट्रेंस टेस्ट 2024 के रिजल्ट ने देशभर के छात्रों को असमंजस में डाल दिया है. देशभर में छात्र और उनके अभिभावक इस बात का विरोध कर रहे हैं कि रिजल्ट रद्द किया जाए या फिर NEET दोबारा आयोजित किया जाए. ऑल इंडिया रैंक पर 67 छात्र, एक ही सेंटर से 6 टॉपर, ग्रेस मार्क्स और उससे पहले पेपर लीक... मामले को लेकर नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) पर जमकर सवाल उठ रहे हैं. इस बीच, इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) जूनियर डॉक्टर्स नेटवर्क ने NEET 2024 में कथित अनियमितताओं की सीबीआई जांच की मांग की है. इसके साथ ही उन्होंने सभी छात्रों के लिए निष्पक्ष और पारदर्शी मूल्यांकन प्रक्रिया सुनिश्चित करने के लिए दोबारा परीक्षा कराने का भी अनुरोध किया है. वहीं, इस मामले में सियासी पारा भी चढ़ता जा रहा है. कांग्रेस ने नीट परीक्षा में धांधली के आरोपों की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में कराने की मांग की है।

ADVERTISEMENT

क्या कहना है एनटीए अधिकारियों का

हालांकि, एनटीए अधिकारियों ने पेपर लीक के आरोपों से इनकार किया है। ग्रेस मार्क्स पर एनटीए का कहना है कि पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और छत्तीसगढ़ के कुछ छात्रों ने समय बर्बाद करने को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी, जिसके बाद ग्रेस मार्क्स दिए गए। टॉप रैंक पर 67 छात्रों के सवाल पर एनटीए का कहना है कि इस बार पेपर आसान था। पिछले महीने नीट एंट्रेंस हुआ था, जिसके लिए 23 लाख छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया था।

रिजल्ट के विरोध से कई छात्र तनाव में

जिन छात्रों का रिजल्ट अच्छा आया है, उनमें से कई छात्र इस बात से चिंतित हैं कि उन्हें दोबारा परीक्षा देने के लिए मशक्कत न करनी पड़े। अगर दोबारा परीक्षा हुई तो मेहनत के अलावा छात्रों को मानसिक तनाव से भी गुजरना पड़ेगा। हालांकि, नीट रिजल्ट को लेकर अलग-अलग शहरों में विरोध प्रदर्शन हुए हैं। कानपुर, लखनऊ, नोएडा समेत कई शहरों में विरोध प्रदर्शन हुए। आने वाले दिनों में दिल्ली में भी विरोध प्रदर्शन होने वाले हैं।

ADVERTISEMENT

कलकत्ता हाईकोर्ट ने एनटीए से मांगा जवाब

कलकत्ता हाईकोर्ट ने नीट-यूजी के आयोजन में अनियमितताओं का आरोप लगाने वाली याचिका पर परीक्षा आयोजित करने वाली एजेंसी एनटीए से जवाब मांगा है। न्यायमूर्ति अपूर्व सिन्हा रे और न्यायमूर्ति कौशिक चंदा की खंडपीठ ने शुक्रवार को एनटीए से 10 दिनों के भीतर जवाब दाखिल करने को कहा है। याचिकाकर्ता ने कहा है कि 720 में से 718 या 719 अंक प्राप्त नहीं किए जा सकते।

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...