जब रामलला के मंदिर में मिला मोस्ट वॉन्टेड बदमाश, ऐसे पहचाना पुलिस ने

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

MP News: रामलला के दर्शन करने एक बदमाश पहुंच गया। फिर क्या था पुलिस को भनक लग गई। पुलिस रामलला के मंदिर पहुंच गई और जैसे ही आरोपी मंदिर परिसर में दिखाई दिया पुलिस ने उसे धर दबोचा। आरोपी ने अपना हुलिया बदल लिया था ताकि उसे कोई पहचान न सके। क्योंकि पुलिस के डोजियर में उसकी पुरानी तस्वीर थी और उस पर 55 हजार रुपए का इनाम घोषित था। पुलिस से छिपने के लिये उसने दाढ़ी बढ़ा रखी थी और कुर्ता-पायजामा पहना हुआ था।

कई मामलों में थी पुलिस को तलाश

दरसअसल, मध्य प्रदेश पुलिस हत्या, हत्या की कोशिश सहित कई संगीन मामलों में फरार घोषित मोस्ट वांटेड बदमाश किशोर उर्फ किस्सू तिवारी की तलाश कर रही थी। पुलिस को खबर मिली कि आरोपी अयोध्या के राम लला मंदिर आने वाला है। बस पुलिस की एक टीम उसकी तलाश में अयोध्या पहुंच गई। और रामलला मंदिर के बाहर रेड कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

क्या कहा पुलिस ने? 

घटना के बारे में जानकारी देते हुए एसपी अभिजीत रंजन ने बताया कि किशोर उर्फ किस्सू तिवारी कटनी सहित जबलपुर पुलिस के लिए मोस्ट वांटेड था और कई साल से फरार चल रहा था। आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पांच टीमें बनाई गईं और देश में कई जगहों पर दबिश दी गई मगर कामयाबी हाथ नहीं लगी। इस बीच पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी अयोध्या में है और ये भी पता चला कि वो राम लला के दर्शन करने आ सकता है। इस दौरान दबिश देकर उसे अरेस्ट कर लिया गया। मालूम हुआ कि किस्सू उस वक्त अपने परिवार के साथ रामलाल के दर्शन करने अयोध्या पहुंचा था। वो यहां क्या सिर्फ रामलला के दर्शन करने आया था या फिर उसका मकसद कुछ और था इसकी जांच भी जारी है। 
 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT