"लोन का पैसा लौटाओ नहीं तो न्यूड फोटो वायरल कर देंगे", मोबाइल लोन ऐप वाले ऐसे कर रहे हैं रिकवरी

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

श्रेया भूषण की रिपोर्ट

बिलासपुर: छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में PHD की एक छात्रा को वॉट्सऐप पर उसकी न्यूड फोटो भेजी गई। साथ ही एक मैसेज भी भेजा गया जिसमें लिखा था कि "तुम्हारा दोस्त लोन की किश्त नहीं चुका रहा है। वह लोन की किश्त नहीं देगा तो तुम्हारी न्यूड फोटो वायरल कर देंगे।" छात्रा मेसेज भेजने वाले को नहीं जानती थी इसके बावजूद भेजने वाले के पास उसका नंबर और तस्वीर कैसे आई सोचकर छात्रा के होश उड़ गये। वो शिकायत लेकर सीधे थाने  पहुंची जिसके बाद धमकी देने वाले के खिलाफ FIR दर्ज करवाई गई। दरअसल PHD की इस छात्रा को सबसे पहले मोबाइल पर एक अनजान नंबर से वॉट्सऐप कॉल आया। उसने फोन रिसीव नहीं किया तो थोड़ी देर बाद उसी नंबर से छात्रा के मोबाइल पर मैसेज आया। उस वॉट्सऐप मैसेज में छात्रा की एडिटेड न्यूड फोटो भी थी। साथ ही मैसेज में धमकी दी गई थी कि "अपने दोस्त को कॉल कर लोन पेमेंट करने के लिए कहो। नहीं कहोगी तो तुम्हारी ये फोटो वायरल कर तुम्हें बदनाम कर दूंगा।"

मनी लेंडिंग ऐप वाले ऐसे करते हैं रिकवरी

छात्रा ने पुलिस से अपनी शिकायत में बताया है कि उसके साथ पढ़ने वाले उसके एक दोस्त ने कुछ समय पहले एक मनी लेंडिंग मोबाइल ऐप (Money Lending Mobile App) के जरिये लोन लिया था। लेकिन किसी कारणवश वह लोन की किश्त जमा नहीं कर पा रहा था। ऐसे में सीधे लोन लेने वाले शख्स से बात करने के बजाए लोन ऐप वालों ने छात्रा को निशाने पर ले लिया और उसके दोस्त पर दबाव बनाने के लिये उसकी डॉक्टर्ड न्यूड फोटो सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दे दी। पूछताछ में छात्रा ने पुलिस को बताया कि उसके साथ-साथ झारखंड की रहने वाली उसकी एक और दोस्त को भी कॉल कर मनी लेंडिंग ऐप वालों ने इसी तरह की धमकी दी है। 

ADVERTISEMENT

छात्रा के फोन में लगाई सेंध

छात्रा ने बताया कि मनी लेंडिंग ऐप की ओर से कॉल करने वाले आरोपी ने उसे धमकी देने के साथ-साथ उसके आधार और पैन कार्ड की डिटेल भी भेजी और उसे धमकी दी कि अगर लोन के पैसे वापस नहीं मिले तो एडिटिड न्यूड फोटो के साथ-साथ आरोपी उसके पर्सनल डॉक्यूमेंट भी वायरल कर देगा। आरोपी ने छात्रा के कॉन्टैक्ट लिस्ट का स्क्रीन शॉट भी भेजा और इन सभी को वायरल करने की धमकी दी। जाहिर है मनी लेंडिंग मोबाइल ऐप वालों ने किसी तरह छात्रा के मोबाइल में सेंध लगा कर छात्रा के फोन की कॉल डीटेल और डेटा की पूरी जानकारी हासिल की थी। फिलहाल पुलिस मामले को दर्ज कर इस स्कैम में शामिल लोगों की पहचान में लगी है। 

इससे पहले कांकेर में कारोबारी ने दी थी जान

ऐसा ही एक मामला करीब महीने भर पहले कांकेर से भी सामने आ चुका है। मनी लेंडिंग ऐप की ओर से वसूली को लेकर धमकियों और प्रताड़ना से तंग आकर एक व्यवसायी ने खुदकुशी कर ली थी। आरोपियों ने उसकी एडिटेड अश्लील फोटो उसके दोस्तों को भेज दी थी। जिसके बाद व्यवसायी ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। उसका शव उसकी दुकान से 3 किलोमीटर दूर पेड़ पर लटका मिला था। मौके से एक सुसाइड नोट भी मिला जिसमें उसने कर्ज़ के दलदल में फंस जाने की वजह से सुसाइड करने की बात लिखी थी।

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT