बागेश्वर बाबा का बचना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है! क्योंकि MBBS की छात्रा स्वयंवर के लिए निकल पड़ी है

ADVERTISEMENT

बाबा बागेश्वर से मिलने गंगोत्री का गंगाजल लेकर निकली एमबीबीएस की छात्रा शिवरंजनी तिवारी
बाबा बागेश्वर से मिलने गंगोत्री का गंगाजल लेकर निकली एमबीबीएस की छात्रा शिवरंजनी तिवारी
social share
google news

MBBS student wants to marry Baba Bageshwar: बाबा बागेश्वर धाम सरकार के पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री यूं तो इस वक्त किसी न किसी वजह से सुर्खियों में छाए हुए हैं। लेकिन इस बात उनसे नाता रखने वाली जिस खबर ने फिजा में परवाज भरी है उसे सुनकर हर कोई मजे ले रहा है। मामला बाबा बागेश्वर धाम के पंडित धीरेंद्र शास्त्री की शादी से जुड़ा हुआ है। असल में लाखों की भीड़ बटोरने और अपनी बातों की चाशनी में बड़ों बड़ों को लपेटने में माहिर धीरेंद्र शास्त्री के रूप रंग का जादू एक डॉक्टरी की पढ़ाई करने वाली छात्रा पर कुछ इस कदर चला कि वो अपनी पढ़ाई लिखाई छोड़कर स्वयं वर की तलाश में निकल पड़ी है। 

MBBS छात्रा की तपस्या

यूं तो बाबा का क्रेज हजारों और लाखों लोगों को है। देश विदेश हर जगह उनके भक्त और उनके चाहने वालों की अच्छी खासी भीड़ मौजूद रहती है। लेकिन एक एमबीबीएस की पढ़ाई करने वाली छात्रा ने इस वक्त सभी का ध्यान अपनी तरफ खींच रखा है क्योंकि वो अब बाबा से बस शादी करना चाहती है और इसके लिए उसने अपनी ही तरह की तपस्या शुरू भी कर दी है। 

गंगोत्री से गंगाजल की गगरी सिर पर रखकर बाबा बागेश्वर से मिलने को निकली शिवरंजनी तिवारी

गंगाजल की गगरी लेकर निकली

अपनी इच्छा पूर्ति के लिए उस छात्रा ने गंगोत्री धाम से सिर पर गंगाजल की गगरी लेकर बागेश्वर धाम के लिए पदयात्रा भी शुरू कर दी है। मजे की बात ये है कि उसकी इस स्वयं वर के लिए की जा रही यात्रा में पिता और भाई भी साथ में पदयात्रा कर रहे हैं। 

ADVERTISEMENT

चित्रकूट से शुरू की पदयात्रा

दरअसल बागेश्वर धाम सरकार धीरेंद्र शास्त्री से शादी करने की कामना करके यात्रा पर निकली उस डॉक्टर की पढ़ाई करने वाली छात्रा का नाम शिवरंजनी तिवारी है। और शिवरंजनी ने अपनी इस पदयात्रा की शुरूआत चित्रकूट के संतोष अखाड़े से की और वहां साधु संतों का आशीर्वाद लेकर आगे बढ़ गई। 

बाबा को मान लिया है प्राणनाथ

शिवरंजनी तिवारी सिर पर गंगाजल का कलश लेकर पदयात्र करते हुए चित्रकूट से बागेश्वर धाम के लिए निकल पड़ी है। उसका यही कहना है कि वो बाबा धीरेंद्र शास्त्री के पास जा रही है। हालांकि शिवरंजनी तिवारी ने शादी की बात खुलकर तो नहीं की लेकिन अपनी बातचीत में वो यही कहती है कि उसने धीरेंद्र शास्त्री को अपना प्राणनाथ मान लिया है। और अपनी मनोकामना पूर्ति के लिए ही वो बागेश्वर धाम जा रही है। 

ADVERTISEMENT

16 जून को होगा आमना सामना

शिवरंजनी के मुताबिक वो 16 जून को बागेश्वर धाम पहुँचेगी और वहां पहुँचकर अपने मन की बात वो बाबा के सामने रखेगी। और तभी इस बात का खुलासा होगा कि आखिर वो ये पदयात्रा क्यों कर रही है। 

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT