इंफाल में आरएएफ और दंगाई भीड़ के बीच झड़पें, एक गोदाम को आग के हवाले किया

ADVERTISEMENT

जांच जारी
जांच जारी
social share
google news

Manipur Violence News: इंफाल में एक पुराने गोदाम को आग के हवाले किये जाने के बाद शुक्रवार शाम एक दंगाई भीड़ की मणिपुर के त्वरित कार्रवाई बल (आरएएफ) के साथ फिर से झड़प हुई हैं। पुलिस को अंदेशा था कि भीड़ अन्य संपत्तियों को भी नुकसान पहुंचा सकती है इसलिए उसे तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले दागे। अधिकारियों ने बताया, ‘‘दंगा इंफाल पैलेस मैदान के पास हुआ।’’

दमकल कर्मियों और सुरक्षा बलों ने तत्काल मौके पर पहुंचकर गोदाम में लगी आग पर काबू पाया और उसे आसपास के मकानों में फैलने से रोका। यह गोदाम आदिवासी समुदाय से ताल्लुक रखने वाले भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के एक सेवानिवृत्त अधिकारी का है। अधिकारियों ने बताया कि इससे पहले कल देर रात केन्द्रीय विदेश राज्य मंत्री आर. के. रंजन सिंह के इंफाल स्थित आवास में भीड़ ने तोड़फोड़ की थी और उसे आग के हवाले करने का प्रयास किया था।

गौरतलब है कि इससे पहले बृहस्पतिवार दोपहर भीड़ ने यहां दो मकानों को आग लगा दिया था। साथ ही, मणिपुर के आरएएफ, और एक भीड़ के बीच इंफाल शहर के बीचोंबीच स्थित एक स्थान पर बृहस्पतिवार दोपहर झड़पें हुई थीं। अधिकारियों ने बताया कि बृहस्पतिवार को शहर में घूम रही भीड़ की भी सुरक्षा बलों के साथ झड़प हुई।

ADVERTISEMENT

इस घटना पर आर के रंजन सिंह ने ‘पीटीआई वीडियो’ से कहा, ‘‘मैं तीन मई (जिस दिन राज्य में जातीय हिंसा शुरु हुई) से ही शांति कायम करने और हिंसा रोकने का प्रयास कर रहा हूं। यह दो समुदायों के बीच हुई गलतफहमी का नतीजा है। सरकार ने शांति समिति गठित की है, प्रक्रिया जारी है।’’

(PTI)

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...