लोन वसूलने वाले गुंडो ने महिला को मौत के मुंह में ढकेला, 19 हजार के लिए आत्महत्या के लिए मजबूर किया, दो वसूली एजेंट गिरफ्तार

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

Maharashtra Crime News: महाराष्ट्र के ठाणे में राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) ने 34 वर्षीय एक महिला को आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप में असम के दो ऋण वसूली एजेंट को गिरफ्तार किया है। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। वरिष्ठ निरीक्षक पंधारी कांडे ने यहां बताया कि लक्षणा नरेंद्र यादव ने छह जुलाई को महाराष्ट्र के ठाणे जिले के दिवा में एक ट्रेन के सामने कूदकर अपनी जान दे दी थी।

ट्रेन के सामने कूदकर अपनी जान दे दी 

जांच से पता चला कि उसने एक ऑनलाइन ऐप के माध्यम से 19 हजार रुपये का ऋण लिया था और ऋणदाता कंपनी के दो वसूली एजेंट उसे कर्ज चुकाने के लिए परेशान कर रहे थे। अधिकारी ने बताया कि उन्होंने पीड़िता पर दबाव बनाने के लिए उसकी तस्वीरों से कथित तौर पर छेड़छाड़ की और उन्हें सोशल मीडिया पर डाल दिया।

19 हजार के लोन की वसूली

कांडे ने बताया कि जीआरपी अधिकारियों ने आखिरकार असम के एक गांव में आरोपियों का पता लगाया और उन्हें 13 नवंबर को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि दोनों आरोपियों की पहचान चाय की दुकान चलाने वाले शंकर नारायण हाजोंग (29) और प्रसन्नजीत निरपेन हाजोंग (32) के रूप में की गई है। उन्होंने बताया कि मामले में जांच जारी है।

ADVERTISEMENT

(PTI)

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...