त्रिशूल और ऊं के टैटू ने सुलझा दी सिरकटी लाश की गुत्थी, समुंद्र के बीच बैग में लड़की की लाश, ये राज़ खुला तो सब हैरान रह गए!

ADVERTISEMENT

समुंद्र के बीच मिली बैग में लड़की की लाश
समुंद्र के बीच मिली बैग में लड़की की लाश
social share
google news

Mumbai Crime News: शुक्रवार की सुबह करीब 8 बजे भायंदर के पश्चिम इलाके में युवती की लाश मिलने से सनसनी फैल गई थी। उत्तान इलाके में समुद्र तट पर एक एल्फा कंपनी के ट्रेवल बैग में एक महिला का सिर कटा हुआ शव मिला था। युवती के शव मिलने की जानकारी मिलते ही उत्तान सागरी पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की गई। बैग में 25 से 30 साल की महिला का शव मिला है। हैरानी की बात ये है कि शव का सिर गायब था। महिला का शव दो हिस्सों में बंटा हुआ हैं दोनों हिस्सों को यानि धड़ व सीने के हिस्से को अलग अलग काटा गया था। पुलिस अफसरों के मुताबिक युवती के शव के हाथ पर त्रिशूल और ॐ का चित्र बना हुआ था। मौके पर वपहुंची पुलिस भी सिरकटी लाश देखर हैरान थी।  

 

लाश के हाथ में टैटू और पैर बंधे थे

 

लाश के हाथ में टैटू और पैर बंधे थे

सवाल ये था कि शव से भरा बैग पानी में बह कर कहीं से आया या कोई फेंक कर गया था। इसकी जांच उत्तन सागरी पुलिस ने शुरु की थी। मुंबई पुलिस की कई टीमें सिर के हिस्से की तलाश में जुटी थीं। पुलिस अफसरों का कहना है कि आस पास के पुलिस थानों व जिलों की पुलिस से गुमशुदगी से जुड़ी जानकारियां हासिल की गईं। पुलिस के सामने सबसे बड़ी मुश्किल थी कि युवती के शव की शिनाख्त की जाए।

ADVERTISEMENT

महिला की पहचान के लिए टैटू से उम्मीद 

पुलिस अफसर जानते थे कि जब तक सिरकटी लाश की शिनाख्त नहीं होती तब तक केस को सुलझा पाना नामुमकिन है। पुलिस ने महिला की पहचान के लिए टैटू पर अपनी उम्मीद लगा रखी थी लिहाजा पुलिस अफसरों ने भायंदर के करीब 40 टैटू आर्टिस्ट से पूछताछ की। पुलिस पूछताछ में पता चला कि महिला नायगांव निवासी अंजलि सिंह है। पुलिस जब उसके घर गई तो पाया कि उसका पति मिंटू घर से गायब है। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 31 साल मिंटू सुरक्षा गार्ड के रूप में काम करता था और बिहार का रहने वाला है। 

 

ADVERTISEMENT

पति को था अवैध संबंधों का शक

 

पति को था अवैध संबंधों का शक

पुलिस का शक मिंटू पर गहरा रहा था लिहाजा पुलिस की एक टीम ने मिंटू की तलाश शुरू की और 9 जून को जब वह दादर रेलवे स्टेशन से शहर छोड़कर भागने की फिराक में था तभी पकड़ लिया गया। पुलिस के अनुसार मिंटू ने हत्या की बात कबूल की। मिंटू ने पुलिस को बताया कि उसने 24 मई को अंजलि के साथ झगड़े के बाद उसकी हत्या कर दी थी। मिंटू को शक था कि अंजलि के किसी युवक से अवैध संबंध थे। लड़ाई के दौरान उसने अंजलि के सिर को दीवार से टकरा दिया जिससे उसकी मौत हो गई। बाद में मिंटू ने अंजलि के शव को ठिकाने लगाने के लिए अपने बड़े भाई चुनचुन की मदद मांगी। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मिंटू ने अपनी एक साल की बेटी को अंजलि के माता-पिता के पास नेपाल में छोड़ दिया था और जब उसे गिरफ़्तार किया गया तो वह अपना बाकी सामान इकट्ठा करने के लिए मुंबई लौट आया था। 

ADVERTISEMENT

 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...