Burger King Shootout Video: गैंगस्टर अमन के साथ कौन थी वो लड़की जिसे दिल्ली पुलिस अब तक ढूंढ रही है?

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Delhi: दिल्ली के बर्गर किंग आउटलेट में शूटआउट का वीडियो बाहर आ चुका है। और इसी के साथ सुलझ गई है उस लड़की की गुत्थी जो शूटआउट में मारे गये गैंगस्टर अमन जून के साथ घटना के वक्त मौजूद थी। सीसीटीवी फुटेज में साफ दिख रहा है कि रात 9:30 बजे जब गोली चली तब आउटलेट में 20 से ज्यादा लोग मौजूद थे। गोली चलते ही उनके बीच हड़कंप मच गया। जिसको जो रास्ता मिला बाहर की ओर भाग गया। जिन्हें बाहर का रास्ता नहीं मिला वो गोलियों की जद से बचने के लिये वॉशरूम की ओर भागते दिखाई दे रहे हैं। खुद अमन गोलियों की बौछार से बचने के लिये कैश काउंटर की ओर भागा और उसे लांघ कर दूसरी ओर कूद गया। हालांकि शूटरों ने उसका पीछा किया और आखिर में काउंटर पर चढ़ कर जख्मी हो कर गिरे अमन पर तकरीबन 40 गोलियां बरसाईं। 

गैंगस्टर के साथ बैठी लड़की कौन थी?  

पर सबसे ज्यादा हैरान करती है वो लड़की जो फुटेज में अमन जून के साथ टेबल पर बैठी नजर आ रही है। रेस्टोरेंट में गोलियां चलने के बाद जहां लोग बदहवासी में बाहर की ओर भागते हैं ये लड़की तब तक अपनी कुर्सी पर बैठी रहती है जब तक अमन गोलियां लगने के बाद उठ कर भागता नहीं है। इसके बाद वो शूटरों को उसके पीछे जाने का पूरा मौका देती है और सबसे आखिर में आउटलेट से बाहर निकलती है। दिलचस्प बात ये है कि वो लड़की जाते जाते अपने साथ अमन जून का मोबाइल फोन और आईडी कार्ड भी ले जाती है। 

क्या हनीट्रैप किया गया गैंगस्टर?

चूंकि बर्गर किंग शूटआउट और अमन की हत्या की जिम्मेदारी पहले ही हिमांशु भाऊ ले चुका है लिहाजा पुलिस की तफ्तीश भी इसी एंगल को सामने रख आगे बढ़ रही है। शुरुआती तफ्तीश के बाद पुलिस का अंदाजा है कि अमन जून के साथ बैठी लड़की हत्या करने वालों के साथी थी। खुद अमन के परिवार ने बताया है कि अन्नू नाम की ये लड़की पिछले तीन महीने से अमन के सम्पर्क में थी और उसका इस लड़की से अक्सर मिलना होता था। पुलिस को शक है कि इस लड़की को हिमांशु भाऊ गैंग ने हनीट्रैप की तरह इस्तेमाल किया ताकि उसके बुलावे पर अमन खुद ब खुद चलकर अपने लिये बिछाए ट्रैप में आ जाए। और हुआ भी यही। 

ADVERTISEMENT

बारीकी से प्लान हुआ था मर्डर

शूटआउट की सीसीटीवी फुटेज देखें तो अमन से मिलने आई ये लड़की पहले अकेले ही बर्गर किंग आउटलेट में दाखिल होती है। वो एक चिकन बर्गर ऑर्डर करती है जिसके थोड़ी ही देर बाद सफेद शर्ट और गहरे नीले रंग की जीन्स पहने अमन भी आ जाता है। इसी वक्त पीछे की टेबल पर दो और लोग बैठ जाते हैं। अभी अमन ने सामने बैठी लड़की से बातचीत शुरु ही की थी कि पीछे वाली टेबल से सफेद शर्ट पहने लड़का उठता है और अमन पर ताबड़ तोड़ फायरिंग शुरु कर देता है। अमन बचने के लिये कैश काउंटर की ओर भागता है तो दोनों हमलावर भी गोलियां बरसाते उसके पीछे भागते हैं। और कैश काउंटर पर चढ़कर तबतक फायरिंग करते रहते हैं जब तक अमन ढेर नहीं हो जाता। 

भाऊ की हिटलिस्ट में था अमन जून

अमन जून के घरवालों ने बताया कि कुछ साल पहले उसने हरियाणा के अशोक प्रधान गैंग के लोगों के साथ काम किया था। हिमांशु भाऊ की सोशल मीडिया पोस्ट के मुताबिक अशोक प्रधान गैंग से जुड़े अपराधी उसकी हिटलिस्ट में हैं क्योंकि वो उन्हें अपने साथी शक्ति दादा की हत्या का जिम्मेदार मानता है। जाहिर है अमन जून को अशोक प्रधान गैंग से नजदीकी के चलते ही हिमांशु भाऊ गैंग ने टारगेट पर लिया था।

ADVERTISEMENT

पुर्तगाल से ऑपरेट करता है भाऊ

फिलहाल पुलिस बर्गर किंग से मिली सीसीटीवी फुटेज, फोरेंसिक एविडेंस और टेक्निकल/मैनुअल सर्विलांस के जरिये शूटआउट में शामिल शूटर्स और भाऊ गैंग के दूसरे सदस्यों की पहचान और धरपकड़ करने में लगे हैं। जहां तक कि गैंग के सरगना हिमांशु भाऊ की बात है तो पुलिस पहले से जानती है कि दिल्ली में सनसनीखेज वारदातें करने वाला 21 साल का ये गैंगस्टर हिंदुस्तान से दुबई के रास्ते पुर्तगाल भाग चुका है और वहीं से दिल्ली-एनसीआर में उगाही और हत्या जैसे जुर्म अंजाम देकर अपना गैंग चला रहा है। 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...