Kanwar Yatra: कांवड़ यात्रा पर आतंकी हमले का साया, दिल्ली पुलिस ने किया ये भारी इंतज़ाम

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Kanwar Yatra:: 14 जुलाई से कांवड़ यात्रा शुरू हो रही है। ये यात्रा अगले 12 दिनों तक चलेगी और 26 जुलाई को इसका समापन होगा। कांवड़ यात्रा पर हमले के अलर्ट (Alert) को देखते हुए दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने इस बार अलग से चौकस बंदोबस्त (Tight Security) किया है।

इस यात्रा के बंदोबस्त के सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने उत्तर प्रदेश की पुलिस के साथ मिलकर पूरा रोड मैप बनाया है। यानी दिल्ली पुलिस पूरी तरह से सतर्क है और उत्तर प्रदेश पुलिस के साथ भी संपर्क बनाए हुए है।

आमतौर पर कांवड़ यात्रा में पहले हफ्ते तो ज़्यादा भीड़ नही होती है लेकिन दूसरे हफ्ते में भारी भीड़ की संभावना के मद्देनज़र दिल्ली पुलिस ने 21 से 26 जुलाई तक के लिए इंतजाम किया है।

ADVERTISEMENT

Kanwar Yatra: सूत्रों की माने तो इस बार की यात्रा पर आतंकियों की नज़र है। दिल्ली पुलिस को आतंकी हमले से जुड़े अलर्ट भी मिल रहे हैं। ऐसी आशंका भी जताई जा रही है कि आतंकी कावंड़ियों के वेश में भी हो सकते है, लिहाजा दिल्ली पुलिस ने सुरक्षा के खास इंतज़ाम किये है।

-दिल्ली पुलिस ने पूरे रास्ते का एक मैप तैयार किया

ADVERTISEMENT

-हर जिले में अलग कंट्रोल रूम बनाया गया

ADVERTISEMENT

-पूरे रास्ते और कैम्प के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है

-सीसीटीवी कैमरों की लगातार मोनिटरिंग की जाएगी

-कावंड़ियों का रजिस्ट्रेशन भी किया जा रहा है ताकि डाटाबेस बन जाये

-अजनबी लोगो पर खास निगाह रहेगी

-कैम्प ऑर्गनाइजर को भी सतर्क रहने की हिदायत

-देश के मौजूदा हालात को देखते हुए पुलिस हुई पूरी तरह सतर्क

-कैम्प मेटल डिटेक्टर की व्यवस्था रहेगी

कोरोना की वजह से 2020 और 2021 में कावंड़ यात्रा नही हुई थी। दो साल बाद कांवड़ यात्रा फिर से शुरू हो रही है। ऐसे में पुलिस का अंदाज़ा है कि इस बार पिछली सालों के मुकाबले भीड़ ज्यादा हो सकती है।

Kanwar Yatra: लिहाजा पुलिस ने एक इंतजाम रजिस्ट्रेशन का भी रखा है ताकि पुलिस के पास एक डाटा रहे जिससे अजनबियों की पहचान की जा सके।

कावंड यात्रा गाज़ियाबाद से होती हुई पूर्वी दिल्ली ,उत्तर पूर्वी दिल्ली और शाहदरा जिलों से होकर गुजरेगी...कांवड़ियों को एक एप पर रजिस्ट्रेशन की हिदायत दी जा रही है। हालांकि रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी नही है..मगर फिर भी पुलिस की कोशिश है कि लोग रजिस्ट्रेशन जरूर करवाये ताकि उसी हिसाब से कैम्प की व्यवस्था की जा सके। बताया ये भी जा रहा है कि

दिल्ली में कावड़ियों के कुल 338 कैम्प होंगे

हर जिले में कंट्रोल रूम होगा और जगह जगह मचान लगाए जाएंगे

सवेंदनशील जगहों की पहचान की जा रही है और वहां पर QRT की तैनाती होगी

पड़ोसी राज्य की पुलिस सभी लगातार मीटिंग की जा रही है, और इनपुट शेयर किए जा रहे है

दो साल पहले कोरोना से ठीक पहले उत्तर पूर्वी दिल्ली में दंगे हुए थे। इस बात के मद्देनज़र भी इलाके में सुरक्षा के अतिरिक्त इंतज़ाम किये गए है। पुलिस अफसरों के मुताबिक कांवड़ यात्रा के दौरान 2000 पुलिसकर्मी ट्रैफिक संभालेंगे। इसके साथ दिल्ली पुलिस ने लोगों से अपील की है कि कावड़िया अपना आधार कार्ड यात्रा के वक़्त साथ रखें।

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...