JUSTICE FOR RAKHI : क्या आप इस निर्भया को इंसाफ दिलाएंगे? फिर एक रेप पीड़िता की आग में जलकर हुई मौत

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

#JusticeForRakhi :

चलो... हाथरस, उन्नाव और तमाम पीड़ितों की तरह अब मैं पीड़िता भी लाइन में लगा दी गई हूं. बेटी जलाओ पार्टी और उसके पुलिस द्वारा...

ये उस बेटी का आखिरी ट्वीट है. जिसने इंसाफ के इंतजार में खुद को आग के हवाले कर दिया. उस आग में जलना तो रावण जैसे लोगों को चाहिए. लेकिन एक रेप पीड़िता को अपने चरित्र को पाक़ साबित करने के लिए ख़ुद जलना पड़ा.

ADVERTISEMENT

ना सिर्फ जलना पड़ा बल्कि अब उसने दम भी तोड़ दिया. लेकिन उनका दम नहीं टूटा जिसने इसे ऐसा करने के लिए मजबूर किया. ना सिर्फ एक रेप पीड़िता बल्कि उसके साथ इंसाफ की लड़ाई में साथ चलने वाले दोस्त को भी जान गंवानी पड़ी.

दोनों ने न्याय की आस में कुछ दिन पहले ही सर्वोच्च अदालत सुप्रीम कोर्ट के दरवाजे पर आए थे. लेकिन यहां इंसाफ का इंतजार करते हुए खुद को आग के हवाले कर लिया था. अब दोनों की मौत हो चुकी है. लेकिन इंसाफ अभी बाकी है.

ADVERTISEMENT

रेप पीड़िता राखी को मिल रही थी धमकी

ADVERTISEMENT

ये मामला है उस पीड़िता का जिसके साथ यूपी के एक सांसद अतुल राय पर रेप का आरोप है. ये BSP सांसद फिलहाल जेल में बंद है. लेकिन सजा पीड़िता ही भुगत रही थी. रेप पीड़िता राखी (बदला हुआ नाम) ने अपने फेसबुक और ट्विटर पर हाल में ही कई पोस्ट किए थे.

इन पोस्ट से साफ होता है कि उसे किस तरह से झूठे केस में फंसाया जा रहा था. उसे धमकियां मिल रहीं थीं. वो शिकायत करती थी पुलिस से. लेकिन पुलिस ने मदद करने के बजाय उसके नंबर को ही ब्लॉक कर दिया. ऐसा ब्लॉक की वो कभी फोन ही ना कर पाए. और आख़िर में ऐसा वक़्त भी आ गया कि वो अब कभी फोन नहीं कर पाएगी. क्योंकि वो अब इस दुनिया में ही नहीं रही.

क्या है पूरा मामला

रेप का आरोप उत्तर प्रदेश के मऊ ज़िले की घोसी लोकसभा सीट से बहुजन समाज पार्टी के सांसद अतुल राय (MP ATUL RAI) पर है. 16 अगस्त को पीड़ित लड़की और उनके मित्र सत्यम राय ने सुप्रीम कोर्ट के सामने ही खुद को आग लगा ली थी. इससे दोनों बुरी तरह से झुलस गए थे. 21 अगस्त को सत्यम की मौत हो गई थी. 24 अगस्त को पीड़ित लड़की ने भी आखिरकार दम तोड़ दिया.

इस केस की शुरुआत होती है वाराणसी से. दरअसल, सत्यम राय मूलरूप से यूपी के गाजीपुर के रहने वाले थे. रेप पीड़िता बलिया की रहने वाली थी. दोनों वाराणसी के उदय प्रताप कॉलेज में साथ पढ़ते थे. यहीं से दोनों की दोस्ती हुई थी. सत्यम छात्र नेता थे.

इसी दौरान उनकी जान-पहचान नेता अतुल राय से हुई थी. फिर सत्यम राय नेता अतुल राय के साथ काम भी करने लगे थे. बताया जाता है कि सत्यम अपनी दोस्त को भी अतुल राय के पास काम के सिलसिले में मिलवाने ले गए थे.

वाराणसी में 1 मई 2019 को लंका थाने में दर्ज एफआईआर के अनुसार, लड़की ने आरोप लगाया था कि सांसद अतुल राय ने 7 मार्च 2018 को उसे वाराणसी के लंका स्थित अपने फ़्लैट में मिलने के लिए बुलाया था.

यहीं पर आरोपी सांसद ने लड़की के साथ बलात्कार किया था. आरोप ये भी है कि घटना का वीडियो बनाकर लड़की को ब्लैकमेल किया जा रहा था. वर्ष 2019 में मऊ के घोसी सीट से लोकसभा चुनाव जीतने के बाद से ही अतुल राय प्रयागराज की नैनी सेंट्रल जेल में बंद हैं. सुप्रीम कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद ही वो सांसद पद की शपथ ले पाए थे.

Justice For Rakhi : आखिर रेप पीड़िता को वाराणसी पुलिस क्यों चरित्रहीन साबित करना चाहती थी?

सांसद के भाई ने वाराणसी में पीड़िता पर दर्ज कराई एफआईआर

23 नवंबर 2020 को आरोपी सांसद के भाई पवन सिंह ने पीड़िता के खिलाफ वाराणसी के कैंट थाने में एक एफआईआर दर्ज कराई थी. ये रिपोर्ट कोर्ट के आदेश पर दर्ज हुई थी. जिसमें पीड़िता पर जन्मतिथी में छेड़छाड़ कर फर्जी दस्तावेज बनवाने का आरोप था.

इस केस में 2 अगस्त 2021 को पीड़िता के खिलाफ गैरजमानती वॉरंट जारी हुआ था. इसके बाद से ही पीड़िता और उसके दोस्त दोनों मदद की गुहार लगा रहे थे. लेकिन कहीं से मदद नहीं मिली. उल्टा इन्हें लगातार धमकी मिल रही थी. इसलिए दोनों ने वाराणसी को छोड़ दिल्ली आ गए थे.

आख़िरी ट्वीट में खु़द को लिखा अनाथ बलात्कार

पीड़िता ने एक ट्वीट में लिखा था कि बहुत जल्द जनता को ये सुनने को मिलेगा कि सांसद अतुल राय सबूतों और गवाह के अभाव में बाइज्जत बरी किए जाते हैं. और यह साबित होता है कि उन्हें साजिशन फंसाया गया था. इसकी पूरी तैयारी बेटी जलाओ पार्टी और प्रशासन द्वारा कर दी गई है मुझ अनाथ बलात्कार.

यानी जिस तरह से पीड़िता को धमकी मिल रही थी उससे अंदाजा हो गया था कि आरोपी को जल्द ही बाइज्जत बरी कर दिया जाएगा. इसलिए पीड़िता ने इस तरह की बात लिखी और उसके बाद आत्मदाह कर लिया था.

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT