Anantnag Encounter : कर्नल, मेजर और DSP की शहादत पर देश में गुस्सा! ...ऐ मेरे वतन के लोगों ज़रा आंख में भर लो पानी जो शहीद हुए हैं उनकी ज़रा याद करो क़ुर्बानी!

ADVERTISEMENT

Jammu and Kashmir Anantnag Encounter
Jammu and Kashmir Anantnag Encounter
social share
google news

बडगाम से अशरफ वानी, पंचकूला से मनजीत सहगल, सुनील जी भट्ट के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट
 

Jammu and Kashmir Anantnag Encounter : आतंकी ऑपरशन में कर्नल-मेजर-डीएसपी की शहादत से देश सन्न है। लोगों में भारी गुस्सा है। शहीद कर्नल के घर पंचकूला में घर वाले मातम में हैं। बाहर लोगों का हुजूम है। कुछ ऐसा ही शहीद मेजर के शहर पानीपत में है। बहन का रो-रो कर बुला हाल है। जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के साथ दो मुठभेड़ों में 3 अफसर और एक जवान शहीद हो गए हैं।

शहीद हुए कर्नल-मेजर-डीएसपी

अनंतनाग में एक कर्नल, एक मेजर और एक DSP आतंकवादी ऑपरेशन में शहीद हो गए। अनंतनाग में बुधवार को आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर उस वक्त गोली चला दी, जब वे सर्च ऑपरेशन चला रहे थे। यहां मुठभेड़ अब भी जारी है। टीआरएफ ने इस आंतकी हमले की जिम्मेदारी ली है। पंचकूला में कर्नल मनप्रीत सिंह और पानीपत में मेजर आशीष का आज अंतिम संस्कार होगा। उधर, शहीद हुए डीएसपी हुमायूं भट्ट सुपुर्द-ए-खाद।

ADVERTISEMENT

कोकरनाग में शहीद हुए जम्मू कश्मीर पुलिस के जांबाज DSP हुमायूं भट्ट का बडगाम हुमहामा में जनाना निकला तो हुजूम उमड़ पड़ा। शहीद डीएसपी हुमायूं भट्ट का पार्थिव शरीर बीती रात जिस वक्त बडगाम में उनके घर लाया गया।

अनंतनाग में शहीद हुए कर्नल मनप्रीत सिंह के घर पंचकूला में सन्नाटा पसरा है। पंचकूला में उनके घर में उनकी पत्नी जगमीत ग्रेवाल, बहन और जीजा मौजूद हैं।

ADVERTISEMENT

अनंतनाग मुठभेड़ में मेजर आशीष ढोंनक भी शहीद हुए। हरियाणा के पानीपत के रहने वाले आशीष की दो साल की बेटी है। तीन बहनों में वो इकलौता भाई था। अब घर में मातम है। मेजर आशीष की 2 साल पहले ही मेरठ से जम्मू में पोस्टिंग हुई थी। 

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT