फरीदाबाद के व्यापारी को किडनैप कर मार डाला, 6 दिन बाद नैनीताल में मिली लाश

ADVERTISEMENT

6 दिन बाद नैनीताल में मिली लाश
6 दिन बाद नैनीताल में मिली लाश
social share
google news

Haryana Murder News: फरीदाबाद के सेक्टर 15 से अपहरण हुए बिजनेसमैन नगेंद्र के शव को लेकर पुलिस नैनीताल से फरीदाबाद पहुंची। व्यापारी नागेंद्र का अपहरण फरीदाबाद के सेक्टर 15 की मार्केट से उस समय हुआ जब नागेंद्र का ड्राइवर बंसी उसके साथ गाड़ी में था। बंसी की शिकायत पर पुलिस ने नागेंद्र के ही बिजनेस पार्टनर पंकज के खिलाफ आर्म्स एक्ट और अपहरण की धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज कर जाँच शुरू की थी लेकिन फरीदाबाद पुलिस आरोपी पंकज को पकड़ने में नाकाम रही और छठे दिन नैनीताल के ताल पट्टी इलाके से नागेंद्र के शव को लगभग डेढ़ सौ फुट गहरी खाई से बरामद किया गया जिसका शव छत-विक्षित हो चुका था।

पुलिस ने पुलिस अफसर की नहीं की मदद

बता दें कि मृतक नागेंद्र की बहन निशा जो कि गुरुग्राम पुलिस में ASI के पद पर तैनात हैं उन्होंने मीडिया से बात करते हुए बताया कि वह पूरे प्रकरण में पुलिस के साथ रही। पुलिस ने उनका सहयोग भी किया लेकिन यदि पुलिस और तत्परता दिखाती तो शायद आरोपी पंकज फरीदाबाद पार नहीं कर सकता था। निशा ने बताया कि उसके भाई नागेंद्र के अपहरण के बाद वह गुड़गांव में थी उसने जब अपने भाई की दूसरे फोन पर फोन मिलाया तो उसके फोन की घंटी बज रही थी जो कि गाड़ी में ही था और आरोपी पंकज कई टोल नाकों को पार करते हुए चलता चला गया लेकिन फरीदाबाद पुलिस उसे मोबाइल लोकेशन निकालकर ट्रेस नहीं कर पाई।

नशे की हालत में गला काटकर हत्या 

वहीं नागेंद्र की बहन निशा ने नागेंद्र के अपहरण और उसकी हत्या के मामले में ड्राइवर बंसी पर आरोपी पंकज से मिले होने का शक जताया है निशा ने बताया कि जैसा कि पुलिस ने उसे जानकारी दी है कि उसके भाई की नशे की हालत में गला काटकर हत्या उसी दिन कर दी गई थी तो इससे साफ जाहिर होता है कि बंसी ने ही पहले उसके भाई नागेंद्र को कोई नशीली चीज दी होगी इसके बाद इस हत्या को अंजाम दिया गया होगा।

यह भी पढ़ें...

ADVERTISEMENT

30 मई को सैक्टर 15 इलाके से नागेंद्र का अपहरण किया गया

इस मामले में पुलिस पीआरओ सूबे सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि 30 मई को सैक्टर 15 इलाके से नागेंद्र का अपहरण किया गया था। इस घटना के बाद पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीमें आरोपी के पीछे लगी हुई थी जिसमें फरीदाबाद पुलिस ने लगभग 2000 सीसीटीवी कैमरे चैक किए जिसमें आरोपी पंकज ही बार-बार दिखाई दे रहा था। फिलहाल मृतक नगेंद्र के शव को नैनीताल इलाके से बरामद कर परिजनों के हवाले कर दिया गया है ।सूबे सिंह ने अपहरण और हत्या की वजह को पैसों का लेनदेन बताया जा रहा है इस मामले में पुलिस आरोपी पंकज को जल्द गिरफ्तार कर लेगी और आरोपी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT