गुजरात के कच्छ में गरुड़ कमांडो ने की आत्महत्या, एयरफोर्स स्टेशन पर सर्विस पिस्टल से खुद को मारी गोली

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

Gujarat Crime News: भारतीय वायुसेना के एक गरुड़ कमांडो ने गुजरात के कच्छ जिले में भुज के पास वायुसेना स्टेशन पर ड्यूटी के दौरान अपनी सर्विस पिस्तौल से गोली मारकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि घटना 16 नवंबर को तड़के हुई। पुलिस ने बताया कि गरुड़ कमांडो रात्रि ड्यूटी पर तैनात था।

सर्विस पिस्तौल से गोली मारकर आत्महत्या

भुज 'ए' डिवीजन पुलिस थाने के उप निरीक्षक डी जे ठाकोर ने बताया कि पीड़ित की पहचान 23 वर्षीय योगेश कुमार महतो के रूप में की गई है, जिसने संभवत: वित्तीय दिक्कतों और कुछ अन्य व्यक्तिगत कारणों से आत्महत्या कर ली। उन्होंने कहा, ‘‘महतो झारखंड के रहने वाले थे और भुज वायुसेना स्टेशन पर भारतीय वायुसेना की गरुड़ कमांडो फोर्स यूनिट में कार्यरत थे। हमें पता चला कि वह कुछ वित्तीय दिक्कतों का सामना कर रहे थे और झारखंड में रह रही अपनी मां के बिगड़ते स्वास्थ्य के कारण भी तनाव में थे।’’

भारतीय वायुसेना की गरुड़ कमांडो फोर्स यूनिट में तैनात

गरुड़ कमांडो फोर्स भारतीय वायुसेना की विशेष बल इकाई है जिसे महत्वपूर्ण वायुसेना अड्डों और प्रतिष्ठानों की सुरक्षा, खोज और बचाव के साथ-साथ आतंकवाद रोधी और बंधक बचाव अभियानों जैसी जिम्मेदारियां सौंपी जाती हैं। पुलिस द्वारा दर्ज की गई रिपोर्ट के अनुसार, महतो ने 16 नवंबर को तड़के तब अपनी पिस्तौल से अपने सिर में गोली मार ली, जब वह भुज वायुसेना स्टेशन पर रात की ड्यूटी पर थे।

ADVERTISEMENT

भुज वायुसेना स्टेशन पर रात की ड्यूटी पर थे

महतो द्वारा आत्महत्या की कोशिश किये जाने के बारे में जानने के बाद, उनके वरिष्ठ अधिकारी महेंद्र प्रताप सिंह उन्हें जी के जनरल अस्पताल ले आए, जहां चिकित्सकों ने सुबह उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस के अनुसार, सिंह ने उन्हें बताया कि महतो एलएसी या 'लीडिंग एयरक्राफ्ट्समैन' के पद पर कार्यरत थे और भारतीय वायुसेना की विशेष बल इकाई का हिस्सा थे।

(PTI)

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT