गुजरात के सूरत में दो फर्जी अधिकारी गिरफ्तार, सूरत से फर्जी आईपीएस तो गांधीनगर से फर्जी एफसीआई सेक्रेटरी गिरफ्तार

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

ब्रजेश दोसी की रिपोर्ट

Gujarat Crime News: गुजरात में पिछले दिनों कई फर्जी अफसरों के मामले सामने आए हैं। 10 दिन पहले छोटा उदयपुर में फर्जी सरकारी दफ्तर मिलने के बाद अब सूरत में फर्जी आईपीएस अधिकारी पकड़ा गया है। सूरत के वाहन चालकों को रोककर फर्जी मेमो देने वाले फर्जी IPS अधिकारी को सूरत पुलिस ने रविवार देर शाम गिरफ्तार किया।

फर्जी आईपीएस अधिकारी पकड़ा गया

सूरत के भाठेना मे पेट्रोलिंग कर रही सूरत पुलिस की नजर आईपीएस का लोगो लगाकर वाहनों की चेकिंग कर रहे शख्स पर पड़ी। ये अफसर आने जाने वाले सभी वाहनों को चेक कर रहा था और ट्रैफिक के नियमों का भंग करने पर उनको मेमो भी थमाता जा रहा था। पैसों की वसूली करने वाले इस अधिकारी को देखकर पुलिस को शक हुआ।

ADVERTISEMENT

फर्जी आईपीएस कर रहा था सड़क पर चेकिंग

पुलिस अफसरों ने जांच के दौरान इस नकली आईपीएस को गिरफ्तार कर लिया। जांच में खुलासा हुआ कि यह अधिकारी बिहार का रहने वाला मोहम्मद समरेज है। जो पिछले 6 महीनों से इसी तरह लोगों को वसूली कर रहा था। पुलिस जांच कर रही है कि ये शख्स ठगी का वारदात में अकेला है या इसका कोई गैंग है। ये जालसाज बाकायदा वॉकी टॉकी का भी इस्तेमाल करता था।

गांधीनगर में फर्जी सचिव गिरफ्तार

वहीं गांधीनगर मे फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया के फर्जी सचिव को गिरफ्तार किया गया है। गांधीधाम के ठेकेदार पुण्य देव राय को गांधीनगर पुलिस ने गिरफ्तार किया। जिस पर आरोप है कि उसने फर्जी विजिटिंग कार्ड से फूड कॉर्पोरेशन ऑफ इन्डिया के अधिकारी होने का दावा किया। विजिटिंग कार्ड पर भारत सरकार का फर्जी स्टैंप भी लगाया गया था। 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...