कभी तो संदीप को बेल मिलेगी, हमने कोई अपराध नहीं किया - Lady Don अनुराधा चौधरी

ADVERTISEMENT

Anuradha chaudhary interview
Anuradha chaudhary interview
social share
google news

जठेड़ी गांव से चिराग गोठी की Exclusive Report

Gangster Kala Jathedi Weds Anuradha chaudhary: मुझे बुरा नहीं लगता है अगर कोई मुझे Lady Don बोलता है। अब ये सब Normal लगता है। अनुराधा ने दिल खोल कर क्राइम तक से बात की और ये तमाम बातें कही। मैं खुद रविवार को जठेड़ी गांव पहुंचा। अनुराग कुमार से अनुराधा चौधरी तक का लंबा सफर  Lady Don ने तय किया है। 

कई बार जेल गई, कई केसों में पुलिस ने नाम जोड़ा, कुछेक केस में बरी हुई, लेकिन अभी भी करीब 19 केस अनुराधा के खिलाफ अदालतों में लंबित हैं। ज्यादातर मुकदमें राजस्थान के है।

ADVERTISEMENT

असहज बिलुकल नहीं लग रही थी। जब उससे Lady Don वाला सवाल पूछा गया तो अनुराधा चौधरी ने साफ कहा कि हरेक महिला Lady Don  होती है। अनुराधा ने साफ कहा, 'जितने भी मुकदमें उस पर, या संदीप पर दर्ज हुए हैं, उनमें से ज्यादातर मुकदमें पुलिस ने फर्जी बनाए हैं। हां, कुछेक घटनाओं के बारे में मैं कह सकती हूं कि वो अन्याय के खिलाफ लड़ाई थी। 

हमें कोर्ट में विश्वास है। हमें न्याय जरूर मिलेगा।' अनुराधा ने यहां तक कि एक दिन संदीप को जरूर बेल मिलेगी। हमारा संघर्ष जारी रहेगा। लगभग हर मुद्दे पर अनुराधा ने बात की। जब उससे पूछा गया कि इस शादी का क्या Future है तो वो बोलीं, 'कुछ पति-पत्नी भी तो शादी के बाद एक-दूसरे के साथ तमाम मजबूरियों के चलते नहीं रहते, हमारा केस भी ऐसा ही समझ लीजिए।'

ADVERTISEMENT

जब उससे पूछा गया कि संदीप की कई लोगों से दुश्मन है, ऐसे में डर नहीं लग रहा कि शादी में कोई अटैक कर सकता हैं, इस पर अनुराधा तपाक से बोलीं, 'डरना क्या, क्या आपको लग रहा है कि मैं डर रही हूं? पुलिस वाले डर रहे हैं। आप बताए नहीं डर रहे हैं।'

ADVERTISEMENT

कब, कहां और कैसे संदीप से मुलाकात हुई ? इस पर अनुराधा ने कहा, 'मैंने और संदीप ने बहुत संघर्ष किया है। समाज हमें अलग नजर से देखता हैं। हम दोनों की कहानी अन्याय के खिलाफ लड़ाई करने से शुरू होती है। मैं उनसे करीब 3-4 साल पहले मिली थी। फरारी के दौरान हमने काफी लंबा वक्त साथ गुजारा है। उसके सिद्धांत बिल्कुल अलग है। मैं उसके विचारों और संघर्षों से बहुत प्रभावित हुई।'

ये है बातचीत के कुछ अंश

Q - कोर्ट ने संदीप को कस्टडी पैरोल दी है छह घंटों के लिए, उस पर आपका क्या कहना है ?


Anuradha Chaudhary - मैं इस बात से बहुत ख़ुश हूँ। आखिरकार न्यायालय ने हमारी बात सुनी। हमें यह विश्वास नहीं था कि कोर्ट हमें इस बाबत परमिशन देगी, लेकिन कोर्ट ने परमिशन दी।


Q - इस शादी पर सुरक्षा एजेंसियों की नज़र हैं, आपको क्या सुरक्षा एजेंसी ने कुछ निर्देश दिए हैं ?


A - जी हाँ, सुरक्षा एजेंसियों ने हमें निर्देश दिए हैं और हम उनका पालन कर रहे हैं। यह एक नॉर्मल शादी है मीडिया इसको बढ़ा-चढ़ा कर पेश कर रहा है।

Q - संदीप उर्फ काला से आपकी मुलाक़ात कब और कैसे हुई ?

A - करीब तीन साल पहले जब मैं फरारी काट रही थी और संदीप भी फरारी काट रहा था, तब हमारी मुलाक़ात हुई। मुझे उनके विचार पसंद आए। उनके जीवन में भी संघर्ष है। मेरे जीवन में भी संघर्ष है। हम दोनों ने अन्याय के ख़िलाफ़ आवाज़ उठायी है, इसलिए मुझे लगा कि संदीप मेरे लिए बिलकुल ठीक रहेंगे।

Q - एक MBA गोल्ड मेडलिस्ट से लेकर लेडी डॉन तक का सफ़र कैसा रहा ? क्या आपको अच्छा लगता है कि लोग आपको लेडी डॉन कहते हैं ?

A - अब मुझे नॉर्मल लगता है। न अच्छा लगता है न बुरा लगता है। मैं हालातों की वजह से अपराधी बनी। मेरे साथ धोखा हुआ, पुलिस ने मेरी सुनी नहीं। इसके बाद मैं क्राइम की दुनिया में आई। मैंने और संदीप ने अन्याय के ख़िलाफ़ आवाज़ उठायी।

Q - इस शादी का क्या फ़्यूचर है. संदीप चूंकि बाहर आ नहीं सकता, फिर शादी का क्या मतलब है ?

A - ये बात ठीक है, मेरी कोशिश रहेगी कि संदीप जेल से बाहर आए। मैं क़ानून की पढ़ाई भी कर रही हूँ और मैं आने वाले वक़्त में संदीप को उनके केसों में असिस्ट करूँगी ताकि वो बाहर आए। मुझे उम्मीद है कि संदीप एक दिन ज़रूर बाहर आएगा और हम नॉर्मल लाइफ़ जिएंगे।

Q - आपके खिलाफ़ और संदीप के ख़िलाफ़ कितने मामले हैं, आपको क्या लगता है कि ये सारे मामले फ़र्ज़ी है

A - देखें, मामले कोर्ट में विचाराधीन है, लेकिन मुझे लगता है कि हमने अन्याय के ख़िलाफ़ आवाज़ उठायी और अधिकतर मामले फ़र्ज़ी है। कई केसों में हम बरी हुए हैं और मुझे कोर्ट पर पूरा विश्वास है।

Q - इस शादी में कितने गेस्ट आ रहे हैं और क्या छह घंटों में शादी के सारे रीति रिवाज़ पूरे हो जाएंगे?

A - हमने गेस्ट लिस्ट को थोड़ा कम किया है, सिर्फ़ बहुत ज़रूरी मेहमानों को भी बुलाया जा रहा है। हमें उम्मीद है कि छह घंटों में हिंदू रीति रिवाज़ से हमारी शादी सम्पन्न होगी। इनमें ज़्यादातर वक़ील, पुलिस वाले, मीडियाकर्मी और हमारे ख़ास लोग मौजूद होंगे।

Q - क्या आपको लगता है कि पुलिस ने आप के ख़िलाफ़ फ़र्ज़ी मुक़दमे बनाएँ ?

A - ये बात बिलकुल ठीक है। पुलिस ने हमें अपराधी बनाया। हम हालातों के मारे है। मैंने अन्याय के ख़िलाफ़ आवाज़ उठायी थी, जिसका मुझे खामियाजा भुगतना पड़ा।

Q -क्या आनंद पाल से आपका कोई रिश्ता था?

A - देखिए, आनंद पाल जब जेल में रहे तो मैं जेल से बाहर थी और जब मैं जेल में रही तो आनंद पाल जेल से बाहर थे, हमारी बहुत ज़्यादा मुलाक़ात नहीं हुई लेकिन ये कहना कि मैं उनकी गर्लफ़्रेंड थी, यह बिलकुल ग़लत है।हम दोनों में एक अच्छा रिश्ता था। कई लोगों को सपोर्ट करने की वजह से पुलिस ने मेरे ख़िलाफ़ मुक़दमे दर्ज किए , जो कि ग़लत है।

Q - क्या इस शादी के बारे में राजस्थान में आपके परिवार को पता है, उनका क्या रिएक्शन है?

A - देखें, मेरे घर में कुछ लोग ख़ुश हैं लेकिन कुछ लोग इस शादी से ख़ुश नहीं है। मुझे उससे फ़र्क नहीं पड़ता, ये मेरा व्यक्तिगत फ़ैसला है।

Q -क्या लॉरेंस से संदीप का कोई रिश्ता है या आप उसको जानती है?

A - देखें, लॉरेंस विश्नोई को मैं नहीं जानती। संदीप के बारे में मैं कह नहीं सकती कि वो जानता है या नहीं। हो सकता है कि वो जानता हो।

Q - आपने अपने घर में CCTV लगा रखे हैं, क्यों ?

A - देखिए, ये इसलिए लगाए हैं ताकि हर गतिविधि पर नज़र रखी जा सके। हमें पता चल सके कि कौन संदीप के घर आ रहा है और जा रहा है?

Q क्या शादी को लेकर कोई ख़तरा भी है, क्या आप इस बात से डर रही है ,प्रतिद्वंदी गैंग अटैक कर सकता है?

A - देखिए, मैं बिलकुल नहीं डर रही हूँ। आपको क्या लगता है कि क्या मैं डर रही हूँ? पुलिस सिक्योरिटी को लेकर कंसर्न हैं। हम सिर्फ़ शादी पर फ़ोकस कर रहे हैं।

Note - पूरा इंटरव्यू इस खबर के साथ संलिग्न है। 
 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT