राहुल की डायरी खोलेगी एल्विश के गहरे राज़, कौन, कहां कैसे करता था जहर वाली पार्टी, नोएडा सांप केस में बड़ा खुलासा

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

दिल्ली से हिमांशु मिश्रा की रिपोर्ट

Delhi Noida Crime: एल्विश सांप केस में नोएडा पुलिस की जांच जैसे जैसे आगे बढ़ रही है नए नए खुलासे सामने आ रहे हैं। जानकारी निकल कर आई है कि पुलिस को राहुल की डायरी में कई पार्टी आयोजको के नाम और अहम जानकारियां हासिल हुई हैं। नोएडा पुलिस की 2 टीम सिर्फ आरोपी राहुल की डायरी की जांच कर रही हैं। एक टीम डायरी में दर्ज नामों से संपर्क कर रही है, तो दूसरी टीम डायरी में मौजूद जगहों पर जा कर सबूत इक्कठे कर रही है। सूत्रों के मुताबिक डायरी में कई लोगो के नाम शामिल हैं। राहुल की डायरी में गुरूग्राम में हुई पार्टी का भी ज़िक्र है।

राहुल की डायरी में कई पार्टी आयोजको के नाम

पुलिस पता लगा रही है कि पार्टी में क्या कुछ होता था। पुलिस पार्टी के वीडियो की तलाश में भी जुटी है। जाहिर है ये सांप के जहर वाली पार्टी करने वालों के खिलाफ एक बड़ा सबूत होगा। डायरी के मुताबिक आरोपी राहुल ने किसी तीसरे के ज़रिए एल्विश से संपर्क किया था। कौन था वो तीसरी कड़ी जांच में पुलिस जुटी है। राहुल और एल्विश के बीच क्या बातचीत होती थी, ये भी जांच की जा रही है। 

ADVERTISEMENT

क्या है एल्विश फ़ाज़िलपुरिया कनेक्शन?

रेव पार्टी, सांप और जहर की कहानी और यूट्यूबर एल्विश यादव से आगे निकल कर हरियाणवी सिंगर फाजिलपुरिया तक पहुंच गई है। असल में नोएडा पुलिस की पूछताछ में एल्विश यादव ने फाजिलपुरिया का नाम लिया है और साथ ही है कि ये फाजिलपुरिया ही था, जो सांपों का इंतजाम कराता था। असल में एल्विश यादव के साथ-साथ फ़ाज़िलपुरिया की भी कई ऐसी तस्वीरें और वीडियोज सोशल मीडिया पर मौजूद हैं, जिनमें वो सांपों के साथ पोज देते और एक्टिंग करते दिखाई दे रहे हैं। अब जब रेव पार्टीज में सांपों के साथ तस्वीरें खिंचाने और सांपों के जहर से नशा करने के मामले में एल्विश यादव के नाम एफआईआर दर्ज हो चुकी है, तो पुलिस एल्विश से सांपों वाले वीडियोज और पिक्चर्स के बारे में भी जानना चाहती है। 

एल्विश यादव से होगी दोबारा पूछताछ?

सूत्रों की मानें तो 7 नवंबर को जब एल्विश यादव से इस सिलसिले से नोएडा पुलिस ने पहली बार पूछताछ की थी, तो पुलिस ने उनसे ये भी पूछा था कि आखिर उनके पास ये सांप आते कहां से हैं, जो उनके वीडियोज और तस्वीरों में दिखते हैं? इस पर एल्विश यादव ने सीधे सिंगर फाजिलपुरिया का नाम लिया। एल्विश ने पुलिस को बताया कि ये फाजिलपुरिया ही है, जो सांपों का इंतजाम करता था। फाजिलपुरिया के एक गाने 32 बोर में एक नहीं बल्कि कई-कई बार खुद फाजिलपुरिया और उसके को-आर्टिस्ट सांपों के साथ एक्टिंग करते हुए दिख रहे हैं। कभी सांप उनके हाथों में लटक रहे थे, कभी चेहरे पर रेंग रहे थे। 

ADVERTISEMENT

रेव पार्टी, सांप और जहर की कहानी

खास बात ये कि ये सभी के सभी सांप दुर्लभ प्रजाति के हैं, जिसका इस तरह  से कमर्शियल इस्तेमाल करना भी कानून के उल्लंघन के दायरे में आता है। ऐसे में अब सवाल उठता है कि क्या एल्विश यादव के इस खुलासे के बाद नोएडा पुलिस इस सिलसिले में फाजिलपुरिया से भी सवाल जवाब करेगी? वैसे फिलहाल पुलिस एल्विश से दोबारा पूछताछ करने की तैयारी में है और पहले पकड़े गए पांचों आरोपियों को दो दिनों के रिमांड पर ले लिया है। पुलिस राहुल नाम के गिरफ्तार आरोपी से एल्विश का आमना-सामना भी करवाएगी। दिल्ली एनसीआर में रेव पार्टीज, उनमें सापों और उनके जहर का नशे के लिए इस्तेमाल किए जाने की इस अजीब और चौंकाने वाले मामले का खुलासा तब हुआ था, जब जानवरों की भलाई के लिए काम करनेवाली संस्था पीएफए ने इस सिलसिले में एक स्टिंग किया था। 

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT