रश्मिका मंदाना डीप फेक वीडियो, दिल्ली पुलिस ने यूआरएल के लिए मेटा को लिखा पत्र

ADVERTISEMENT

जांच जारी
जांच जारी
social share
google news

Delhi Crime News: दिल्ली पुलिस ने सोशल मीडिया कंपनी मेटा को उस अकाउंट का यूआरएल उपलब्ध कराने के लिए पत्र लिखा है, जिससे अभिनेत्री रश्मिका मंदाना का 'डीप फेक' वीडियो साझा किया गया था। पुलिस ने घटना के संबंध में प्राथमिकी दर्ज करने के एक दिन बाद यह कदम उठाया है। एक अधिकारी के मुताबिक, दिल्ली पुलिस ने सोशल मीडिया पर फर्जी वीडियो साझा करने वाले लोगों की जानकारी भी मांगी है। 

रश्मिका मंदाना का 'डीप फेक' केस

जांच से जुड़े एक अधिकारी ने 'पीटीआई-भाषा' से कहा, ''हमने उस खाते की यूआरएल आईडी तक पहुंच हासिल करने के लिए मेटा को लिखा है, जिससे वीडियो बनाया गया था।'' मामले में दिल्ली पुलिस के विशेष प्रकोष्ठ की ‘इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस यूनिट’ में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 465 (जालसाजी) और 469 (प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से जालसाजी) तथा सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) अधिनियम की धारा 66सी और 66ई के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

दिल्ली पुलिस ने मेटा से मांगी जानकारी

अधिकारी ने कहा, 'मामले को सुलझाने के लिए अधिकारियों की एक समर्पित टीम गठित की गई है। हमें उम्मीद है कि मामला जल्द ही सुलझा लिया जाएगा।' दिल्ली महिला आयोग ने भी शुक्रवार को वीडियो के संबंध में पुलिस को नोटिस भेजा था और इस कृत्य में शामिल लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी। पिछले हफ्ते सोशल मीडिया पर रश्मिका का एक डीप फेक वीडियो वायरल हुआ था, जिसे कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) सॉफ्टवेयर की मदद से बनाए जाने का संदेह है। मूल वीडियो एक ब्रिटिश-भारतीय ‘सोशल मीडिया इंफ्लूएंसर’ का बताया जा रहा है, जिसका चेहरा रश्मिका के चेहरे से बदल दिया गया था।

ADVERTISEMENT

(PTI)

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...