हिंदू देवी-देवताओं की आपत्तिजनक तस्वीरें ऑनलाइन बेचने वाला बीबीए स्टूडेंट निकला, पुलिस ने किया चौंकाने वाला खुलासा

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

Delhi Crime News: दिल्ली पुलिस ने हिंदू देवी-देवताओं का अनादर करने तथा उनकी आपत्तिजनक तस्वीरें ऑनलाइन बेचने के आरोप में शुक्रवार को एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) से पिछले सप्ताह शिकायत मिलने के बाद दिल्ली पुलिस ने जांच शुरु की थी। 

देवी देवताओं की आपत्तिजनक तस्वीरें 

दिल्ली पुलिस की विशेष प्रकोष्ठ की आईएफएसओ (इंटेलिजेंस फ्यूजन एंड स्ट्रैटेजिक ऑपरेशंस) इकाई ने भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 295 (किसी वर्ग के धर्म या धार्मिक विश्वासों का अपमान करके उसकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के इरादे से जानबूझकर दुर्भावनापूर्ण कृत्य करना) और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 67ए (अश्लील सामग्री इलेक्ट्रॉनिक रूप में प्रकाशित या प्रसारित करने) के तहत मामला दर्ज किया था।

दिल्ली पुलिस की आईएफएसओ ने पकड़ा

डीसीडब्ल्यू ने इंटरनेट पर बेची जा रही आपत्तिजनक तस्वीरों के संबंध में शिकायत मिलने के बाद नोटिस जारी किया था। एक अधिकारी ने बताया कि एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है और इस संबंध में कुछ और लोगों को पकड़ा जाना है। शुरुआती जांच में दरभंगा के रहने वाले राहुल कुमार का नाम सामने आया। जब पुलिस दरभंगा में रहने वाले राहुल के घर पहुंची तो पता चला कि वो बेकसूर है कोई संदिग्ध उसके नाम का इस्तेमाल कर रहा था। 

ADVERTISEMENT

ये कैसी साजिश

आरोपी बेहद शातिर था वो नकली ईमेल के माध्यम से आपत्तिजनक संदेश भेज रहा था। अपराधी ने अपनी पहचान छुपाने के लिए कई तकनीकों का इस्तेमाल किया। डिजिटल फोरेंसिक और प्रौद्योगिकी कंपनियों की मदद से सेल के अफसरों ने आरोपी आदर्श सैनी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी से लगातार पूछताछ करने पर पता चला कि आरोपी ने हाल ही में आईएमएस यूनिवर्सिटी, देहरादून से बीबीए पूरा किया है और उसने विभिन्न ऑनलाइन गेमिंग प्लेटफॉर्म पर ऑनलाइन गेमिंग का काम करना शुरू कर दिया है। 

गेमिंग एप्प का बदला

आरोपी आदर्श ने गेमिंग वेबसाइट बनाई थी और ग्राहकों को गेमिंग आईडी मुहैया कराता था और बदले में उसे कुछ कमाई होती थी। उन्होंने आगे कहा कि राहुल कुमार नामक व्यक्ति ने एक गेमिंग वेबसाइट बनाई जो उनकी वेबसाइट से मिलती जुलती थी और इसके परिणामस्वरूप उसके बिजनेस खऱाब हो रहा था लिहाजा राहुल से बदला लेने के लिए, उसने राहुल कुमार को फर्जी मामले में फंसाने की साजिश रची। राहुल कुमार की जानकारियां हासिल करके आपत्तिजनक सामग्री ऑनलाइन प्रसारित की जिससे ये लगे की ये काम राहुल कर रहा है।

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...