दुबई और गल्फ कंट्री भेजने के नाम पर करीब 1000 लोगों से धोखाधड़ी

ADVERTISEMENT

Delhi Fake Visa Racket Busted
Delhi Fake Visa Racket Busted
social share
google news

अरविंद ओझा के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट

Delhi Fake Visa Racket Busted : दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने फेक वीजा रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। गैंग के सरगना का नाम इनामुल हक़ है। इनामुल इंजीनियरिंग कर चुका है और पढ़ाई पूरी करने के बाद फेक वीजा रैकेट चलाकर लोगों को चूना लगाने का काम कर रहा था। इनामुल दिल्ली के जामिया इलाके में रह कर इस गोरखधंधे को अंजाम दे रहा था। दिल्ली पुलिस के मुताबिक, दुबई भेजकर नौकरी लगाने का झांसा देकर ये गैंग अब तक करीब 1000 लोगों को चूना लगा चुका है।

Delhi Fake Visa Racket Busted

टूरिस्ट वीजा के जरिए भेजते थे दुबई

ADVERTISEMENT

क्राइम ब्रांच के स्पेशल सीपी रविंद्र यादव के मुताबिक, ये गैंग नौकरी डॉट कॉम से उन लोगों की तलाश करता था, जो गल्फ कंट्री मे नौकरी की तलाश में होते थे। गैंग फर्जी कंपनी के जरिये पीड़ितों को कॉल करके दुबई नौकरी दिलाने का झांसा देता था और हर शिकार से करीब 60 हजार रुपये झटक लेता था। पुलिस के मुताबिक, ये गिरोह पहले उस शख्स को टूरिस्ट वीजा लगवाकर विश्वास में लेते थे और फिर दुबई पहुंचने के बाद वर्क परमिट मिलने की बात कहकर किश्तों में मोटी रकम ले लेते थे।

गैंग के निशाने पर होते थे साउथ इंडिया के लोग

ADVERTISEMENT

पुलिस के मुताबिक, इस गिरोह के निशाने पर अधिकतर केरल और साउथ इंडिया के लोग होते थे, जो गल्फ कंट्री जाकर ज्यादा पैसा कमाने की चाहत रखते थे। जांच के दौरान पुलिस को पता चला है कि गिरोह के सरगना इनामुल हक के रिश्तेदार के तार आतंकी संगठन इंडियन मुजाहिद्दीन से जुड़े हुए है। पुलिस अब मामले की गहनता से जाँच में जुट गई है कि क्या ये गैंग सिर्फ फेक वीजा रैकेट से ही जुड़ा था या किसी आतंकी संगठनों से भी इनकी सांठगांठ थी?

ADVERTISEMENT

इस मामले में नौकरी डॉट कॉम समेत कुछ कंपनियों को नोटिस भी जारी किया जाएगा। पुलिस ने इनामुल के जामिया इलाके में मौजूद ठिकाने पर रेड की, जहां से तकरीबन 100 पासपोर्ट, लैप टॉप और फर्जी स्टांप बरामद हुए हैं। 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT