पंजाब से इटली गया था नौकरी करने, पर हादसे में जख्मी सतनाम को मालिक ने सड़क पर फिंकवाया, हुई दर्दनाक मौत

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

ITALY: विदेश जाकर नौकरी करने और शानदार जिंदगी जीने की ललक भारत में बहुत से लोगों में दिखाई पड़ती है, लेकिन पंजाब से इटली नौकरी करने गए एक शख्स की दर्दनाक कहानी सुनने के बाद उन लोगों का कलेजा बैठ सकता है जो विदेश जाकर नौकरी करने का हसीन सपना पाले बैठे हैं। असल में बीती 17 जून को इटली के एक फार्म पर काम करने वाले एक भारतीय सतनाम सिंह (Satnam Singh) के साथ जो कुछ हुआ उसने पंजाब तक दहशत फैला दी है। सतनाम फार्म में काम करते वक्त एक हादसे का शिकार हो गया था जिससे उसका दायां हाथ बुरी तरह जख्मी हो गया था। लेकिन उस फार्म के मालिक ने सतनाम का इलाज करवाने के बजाए उसे घर से बाहर निकाल सड़क पर फिकवा दिया। हालत ये हो गई कि सतनाम के जख्मों में कीड़े पड़ने लगे तब भी मालिक को उस पर तरस नहीं आया।

तड़प तड़पकर हुई सतनाम की मौत

सतनाम की पत्नी लोगों से मदद की भीख मांगती रही लेकिन किसी ने उसकी एक ना सुनी। बाद में उसी दर्द से तड़पकर सतनाम की मौत हो गई। और ये खबर सात समंदर लांघकर जैसे ही हिन्दुस्तान में पंजाब के मोगा जिले तक पहुँची तो सारे इलाके में बेचैनी का आलम छा गया। बताया जा रहा है कि इटली की राजधानी रोम के दक्षिण में एक जगह है लैटिना। इस गांव के मेलोन ग्रीनहाउस में ज्यादातर प्रवासी मजदूर ही काम करते हैं। उन्हीं प्रवासी मजदूरों में से एक भारतीय मजदूर सतनाम सिंह भी था।

काम करते वक़्त कट गया था हाथ

बीती 17 जून को खेतों में काम करते वक्त मशीन की चपेट में आकर सतनाम का हाथ बुरी तरह कट गया। मगर फार्म के मालिक ने सतनाम को अस्पताल ले जाकर उसका इलाज करने के बजाए उससे पीछा छुड़ा लिया। उल्टा उस बेरहम मालिक ने सतनाम को घर से बाहर निकाल सड़क पर फिंकवा दिया। सतनाम की पत्नी फार्म मालिक से लाख मिन्नतें करती रही और मदद की गुहार लगाती रही मगर किसी ने उसकी एक न सुनी। 

ADVERTISEMENT

खेत मालिक ने सड़क पर फिंकवा दिया

मिली जानकारी के मुताबिक सतनाम का हाथ इस कदर कट गया था कि उसमें पस और कीड़े पड़ने लगे थे। फिर भी उसका इलाज नहीं कराया गया। बल्कि जब सतनाम की खराब हालत के बारे में फार्म के मालिक को पता चला तो जिस मिनी वैन में सतनाम रहता था उससे भी निकलवाकर उसे खेतों से बाहर कर दिया। इसके बाद सतनाम और उसकी पत्नी ने कई दिन सड़क पर काटे। बाद में कुछ लोगों ने इंसानियत के नाते मदद की और सतनाम को अस्पताल पहुंचाया लेकिन तब तक उसकी हालत बहुत खराब हो चुकी थी और इलाज के दौरान बुधवार को सतनाम की मौत हो गई। 

प्रधानमंत्री मेलोनी ने जताया दुख

इसी बीच लैटिना के उस खेत के मालिक का पता चल गया है। उसका नाम रेंजो लवातो बताया जा रहा है। ये दुखद खबर जब इटली की प्रधानमंत्री जियार्जियो मेलोनी तक पहुँची तो उन्होंने इस हादसे पर दुख जाहिर किया। मेलोनी ने कहा है कि ऐसी गैरइंसानी हरकत कोई भी इटली का बाशिंदा नहीं कर सकता। मेलोनी ने उम्मीद जताई कि पीड़ित के परिजनों के साथ पूरा इंसाफ होगा। इसी बीच इटली में भारतीय दूतावास ने भी इस वाकये को लेकर अपनी संवेदना जाहिर की है। भारतीय दूतावास ने सोशल मीडिया एक्स पर इस मौत की जानकारी देते हुए लिखा कि दूतावास को इटली के लैटिना में एक भारतीय नागरिक की दुर्भाग्यपूर्ण मौत की जानकारी मिली है। हम स्थानीय अधिकारियों के संपर्क में हैं। परिवार से संपर्क करने और सहायता प्रदान करने के प्रयास जारी हैं। 

ADVERTISEMENT

खेत मालिक के सच का खुलासा

इटली के मीडिया में छपी खबरों के मुताबिक खेत मालिक रेंजो लवातो ने सतनाम की मौत के बाद अपना दुख जाहिर करते हुए परिवार के प्रति संवेदना जताई है। मगर मीडिया में छपी खबरों पर यकीन किया जाए तो खेत मालिक रेंजो ने अपने मजदूरों को साफ तौर पर हिदायत दी थी कि कोई भी किसी भी सूरत में सतनाम की मदद नहीं करेगा। और अगर किसी ने भी मदद की तो उसे नौकरी से हाथ धोना पड़ेगा।

ADVERTISEMENT

कामगारों का संगठन Action में

फ्लाई सीजीआईएल ट्रेड यूनियन यानी खेतों और खाद्य उद्योग से जुड़े श्रमिकों के लिए काम करने वाले इटली के एक संगठन ने इस मामले में एक्शन लेने की बात कही है। संगठन की तरफ से बताया गया है कि  खेत में काम करते समय ही सतनाम जख्मी हुआ था लिहाजा उसके इलाज की जिम्मेदारी मालिक की बनती थी। इटली के अफसर इस मामले की जांच कर रहे हैं, उन्होंने उम्मीद जताई है कि इस घटना के लिए जिम्मेदार शख्स को सजा दी जाएगी। हालांकि इटली की पुलिस ने सतनाम की पत्नी और दोस्तों के हवाले से ये भी बताया है कि सतनाम के पास इटली में काम करने के लिए प्रॉपर लीगल डॉक्यूमेंट नहीं थे।

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...