कनाडा बना मिनी पाकिस्तान, क्यों भारत को गैंगस्टर नहीं सौंपता कनाडा?

ADVERTISEMENT

Canada Gangsters Connections
Canada Gangsters Connections
social share
google news

Canada Gangsters Connections Latest News: तो क्या अब कनाडा आतंकियों के लिए सुरक्षित ठिकाना बनता जा रहा है? ये सवाल अब उठने लगा है। लेकिन सवाल ये भी है कि आखिर सरकार के पास ऐसे कौन से सबूत है, जिससे ये सिद्ध हो रहा हो कि ये आतंकी इस वक्त कनाडा में छिपे हैं? अगर ऐसा है तो क्या वजह है कनाडा इन आतंकियों को प्रत्यर्पित नहीं कर रहा है?

आतंकी निज्जर की हुई हत्या

Sidhu Moosewala : ऐसा कहा जा रहा है कि इस वक्त कनाडा में सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल आतंकी गोल्डी बराड़, खालिस्तानी आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू, लखबीर सिंह उर्फ लांडा, चरणजीत सिंह, उर्फ रिंकू रंधावा, अर्शदीप सिंह, उर्फ अर्श डाला और रमनदीप सिंह उर्फ रमन जज जैसे खूंखार गैंगस्टर कनाडा में छिपे हैं।

लेकिन सवाल उठता है कि कनाडा में कहां? क्या भारत सरकार ने इसके बारे में कनाडा सरकार को पर्याप्त सबूत और ठिकाने के बारे में जानकारी दी है? अगर दी है, तो क्यों कनाडा की सरकार शांत बैठी है?

ADVERTISEMENT

निज्जर की हत्या के बाद दोनों देशों में तनाव बढ़ गया है। निज्जर भारत में 'सिख फॉर जस्टिस' संगठन के जरिए खालिस्तानी गतिविधियों को बढ़ावा दे रहा था।

खालिस्तानी आतंकवादी गुरपतवंत सिंह पन्नू भी कनाडा में हो सकता है। वह 'सिख फॉर जस्टिस' संगठन चलाता है। पन्नू का मकसद भारत में आतंकवाद फैलाना है। पन्नू ने कनाडा में कई जनमत संग्रह भी कराए हैं।

ADVERTISEMENT

पिछले दिनों पंजाब पुलिस ने 3 मामलों में 7 ऐसे गैंगस्टर के नाम उजागर किए थे, जो कथित तौर पर कनाडा में छिपे हैं। ये केस हैं, पिछले साल मई में मोहाली में खुफिया मुख्यालय पर हमला, 29 मई को सिद्धू मूसेवाला की हत्या और कनाडा के सरे में रिपुदमन सिंह मलिक की हत्या का केस।

ADVERTISEMENT

पंजाब पुलिस के सात गैंगस्टर हैं, लखबीर सिंह उर्फ लांडा, गोल्डी बराड़, चरणजीत सिंह उर्फ रिंकू रंधावा, अर्शदीप सिंह उर्फ अर्श डाला, रमनदीप सिंह उर्फ रमन जज, गुरपिंदर सिंह उर्फ बाबा डल्ला और सुखदुल सिंह उर्फ सुखा। बाबा और सुखा टारगेट किलिंग के मामले में आरोपी हैं। सात में से चार के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया है। इसके अलावा कनाडा में छिपे गुरविंदर सिंह, सनवर ढिल्लन और सतवीर सिंह वारिंग भी NIA की रडार पर हैं।

पंजाब के मोगा जिले में कांग्रेस नेता बलजिंदर सिंह बल्ली की हत्या हुई थी। ये हत्या भी खालिस्तानी आतंकियों की थी। इसके हमलावर भी कनाडा में बैठे है। 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT