Atiq Case: अतीक एंड कंपनी से कब्जाई जमीन वापस लेगी सरकार

ADVERTISEMENT

 Atiq Case: पिछले 2 साल से अतीक अहमद की अवैध संपत्तियों पर योगी सरकार का बुलडोजर चल रहा है
Atiq Case: पिछले 2 साल से अतीक अहमद की अवैध संपत्तियों पर योगी सरकार का बुलडोजर चल रहा है
social share
google news

आशीष श्रीवास्तव के साथ चिराग गोठी की रिपोर्ट

Atiq Case: अतीक एंड कंपनी ने जिनकी जमीन कब्जाई थी, सरकार वापस उन लोगों को जमीनें लौटाएगी। अभी तक सरकार ने अतीक के पास से करीब 11 सौ करोड़ की संपत्ति जब्त और धवस्त की है।  अतीक ने जमीनें कब्जा कर ली थीं और कई जगह तो सस्ते दामों में लोगों से जमीन ले ली थीं, लेकिन क्या ये काम वाकई इतना आसान होगा? जानकारों का मानना है कि ये कैसे पता चलेगा कि ये जमीन फलां व्यक्ति की थी और अतीक ने इस पर कब्जा किया था। इसके लिए पीड़ित को सबूत पेश करने होंगे।  

पिछले 2 साल से अतीक अहमद की अवैध संपत्तियों पर बुलडोजर चल रहा है। अभी भी उसकी कई संपत्तियों का पता चल रहा है। सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, 13 अप्रैल तक प्रशासन ने अतीक अहमद की 417 करोड़ की संपत्ति को अपने कब्जे में ले लिया है, जबकि करीब 752 करोड़ रुपये के अवैध कब्जे को ध्वस्त कर दिया था। 

ADVERTISEMENT

अतीक के नाम वाली 100 से ज्यादा सेल डीड बरामद हुई है। इसके अलावा अतीक के 200 बैंक अकाउंट भी सील किए गए हैं। इसके अलावा अतीक की बनाई 50 से ज्यादा फर्जी कंपनियों के कागजात भी ईडी को मिले हैं। ED अधिकारियों ने अब अतीक अहमद की बेनामी संपति को कुर्क करने की तैयारी की है।

सोमवार को ही ईडी कार्यालय में उन दोनों बिल्डर से पूछताछ की गई थी। अतीक किसानों को डरा धमका कर सस्ती दरों उनकी जमीन खरीद लेता था और उन्हें बड़े बिल्डर्स को दे देता था। ये अतीक की कमाई का अवैध जरिया था।

ADVERTISEMENT

उसने करीब 50 फर्जी कंपनियां बनाई थीं, जिसमें निवेश कर काले पैसे को कानूनी बना देता था। ईड़ी ने उन फर्जी कंपनियों के दस्तावेज भी बरामद किए हैं। 

ADVERTISEMENT

उधर, शाइस्ता और गुड्डू मुस्लिम की तलाश तेज हो गई है। पुलिस ने प्रयागराज से लेकर कौशांबी तक शाइस्ता को खोज रही है। दो सौ से ज़्यादा घरों की तलाशी ली जा चुकी है। दो दर्जन से अधिक महिलाओं से पूछताछ की गई। अतीक के कुछ रिश्तेदारों को भी पुलिस ने उठाया है। उनसे भी पूछताछ की जा रही है।

शाइस्ता के अलावा पुलिस को अतीक अहमद की बहन आयशा नूरी और अतीक के भाई अशरफ की पत्नी जैनब फातिमा की भी तलाश है। दोनों को पुलिस ने उमेश पाल हत्याकांड में आरोपी बनाया है।

कहां है बमबाज?

पुलिस के लिए एक बड़ी गुत्थी  है बमबाज गुड्डू मुस्लिम। पांच लाख का इनामी गुड्डू  मुस्लिम की 24 फरवरी को उमेश पाल की हत्या के बाद अब तक पांच लोकेशन मिली है।

पहली लोकेशन मेरठ, दूसरी लोकेशन झांसी, तीसरी लोकेशन नासिक, चौथी लोकेशन कर्नाटक और अब ओडिश, लेकिन गुड्डू नहीं मिला। देखना होगा कि पुलिस कब तक गुड्डू को गिरफ्तार करती है ?

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...