Atiq Encounter : अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम मोहम्मद झांसी एनकाउंटर में ढेर, दोनों पर था पांच लाख का इनाम

ADVERTISEMENT

अतीक अहमद का बेटा असद एनकाउंटर में ढेर
अतीक अहमद का बेटा असद एनकाउंटर में ढेर
social share
google news

प्रयागराज हत्याकांड के पूरे 49 दिन के बाद उत्तर प्रदेश की STF ने अतीक अहमद के बेटे असद अहमद और एक शूटर गुलाम मोहम्मद को झांसी में हुए एनकाउंटर में ढेर कर दिया। प्रयागराज हत्याकांड के बाद से ही अतीक का बेटा असद और शूटर गुलाम मोहम्मद फरार चल रहे थे। यूपी पुलिस ने दोनों के ऊपर पांच पांच लाख का इनाम घोषित कर रखा था। बताया जा रह है कि ये एनकाउंटर झांसी में उस वक़्त हुआ जब असद और गुलाम दोनों ही एसटीएफ के सामने आ आ गए। खुलासा है कि दोनों की पहचान पुख्ता होते ही एसटीएफ की टीम ने दोनों को सरेंडर करने के लिए ललकारा। लेकिन असद और गुलाम ने एसटीएफ की इस चेतावनी को नज़र अंदाज करके फायरिंग शुरू कर दी। 

पुलिस ने मार गिराया शूटर गुलाम मोहम्मद को


झांसी से सामने आई खबर के मुताबिक पुलिस ने दोनों को घेर लिया था लिहाजा जवाबी फायरिंग में दोनों को गोली लगी और दोनों ही एनकाउंटर में मारे गए। पुलिस को दोनों के पास से अत्याधुनिक विदेशी पिस्तौल बरामद हुई हैं। 
पुलिस और एसटीएफ की इस कामयाबी के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के माफिया को मिट्टी में मिलाने के ऐलान को जमीन पर उतारते देखा जा रहा है। 
यूपी पुलिस को इस हत्याकांड के सिलसिले में मिली ये तीसरी बड़ी कामयाबी मानी जा रही है। इससे पहले यूपी पुलिस ने हत्याकांड के दो शूटरों को एनकाउंटर में मार गिराया था। वारदात को 24 घंटों के भीतर अरबाज नाम के शूटर को पुलिस ने प्रयागराज में ही ढेर कर दिया था जबकि दूसरे शूटर उस्मान चौधरी उर्फ विकास चौधरी को भी पुलिस ने प्रयागराज के पास एक गांव के नजदीक एनकाउंटर में ढेर कर दिया था। 

प्रयागराज हत्याकांड के फरार आरोपी असद और गुलाम को एनकाउंटर में ढेर किया गया


असद और गुलाम मोहम्मद के एनकाउंटर के बाद अब यूपी पुलिस के हौसले काफी बुलंद हो गए हैं। पुलिस को प्रयागराज में उमेश पाल की हत्या के सिलसिले में असद अहमद और गुलाम मोहम्मद के अलावा गुड्डू मुस्लिम समेत छह शूटरों की तलाश थी। लेकिन अब पुलिस ने असद अहमद और गुलाम मोहम्मद को एनकाउंटर में मार गिराया है। 
उधर प्रयागराज में माफिया डॉन अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ को कोर्ट में पेश किया गया जहां पुलिस ने दोनों की रिमांड मांगी है। 
इसी बीच उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने इसे उत्तर प्रदेश पुलिस की कामयाबी बताते हुए कहा है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री के आदेश के बाद पुलिस ने माफिया को पूरी तरह से मिट्टी में मिलाने का काम तेजी से आगे बढ़ाया है। 
केशव प्रसाद मौर्या ने कहा है कि प्रदेश में किसी भी सूरत में माफिया और डॉन को पनपने नहीं दिया जाएगा जो कानून को ठेंगा दिखाएगा उसे ऐसे ही सरकारी गोलियों से सुला दिया जाएगा। 
 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT