रोड रेज की घटना के बाद सीआरपीएफ ने कुमार विश्वास की सुरक्षा में तैनात जवानों को हटाया

ADVERTISEMENT

Kumar Vishwas
Kumar Vishwas
social share
google news

Kumar Vishwas : कवि कुमार विश्वास की वीआईपी सुरक्षा इकाई में तैनात केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के कमांडो को हाल ही में हुई रोड रेज की कथित घटना की जांच तक ड्यूटी से हटा दिया गया है। 

रोड रेज की यह कथित घटना आठ नवंबर को उस समय हुई थी, जब कुमार विश्वास उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से अलीगढ़ जा रहे थे। एक डॉक्टर ने आरोप लगाया था कि कुमार विश्वास की सुरक्षा में तैनात सशस्त्र कर्मियों ने उसके साथ मारपीट की थी।

सूत्रों ने बताया कि कुमार विश्वास का सुरक्षा कवर बनाए रखने के लिए सीआरपीएफ कमांडो के दूसरे बैच ने अपने सहयोगियों की जगह ले ली है।

ADVERTISEMENT

कुमार विश्वास (53) द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर खालिस्तान समर्थकों का समर्थन करने का आरोप लगाने के बाद केंद्र ने पिछले साल उन्हें सीआरपीएफ की वीआईपी सुरक्षा इकाई का एक छोटा सा 'वाई' श्रेणी का सशस्त्र सुरक्षा कवर प्रदान किया था।

केजरीवाल ने कुमार विश्वास के आरोपों को खारिज कर दिया था।

ADVERTISEMENT

सूत्रों ने बताया कि कुमार विश्वास की वीआईपी सुरक्षा में तैनात तीन सीआरपीएफ जवानों को ड्यूटी से हटा दिया गया है और कमांडो की एक अन्य टीम ने उनकी जगह ले ली है।

ADVERTISEMENT

सूत्रों ने कहा कि सीआरपीएफ जवानों को आठ नवंबर को हुई रोड रेज की कथित घटना की जांच लंबित रहने तक ड्यूटी से हटाया गया है। सीआरपीएफ महानिदेशक एस एल थाओसेन ने घटना की समीक्षा के बाद कोर्ट ऑफ इंक्वायरी का आदेश दिया है।

सूत्रों के मुताबिक, प्रथम दृष्टया यह पाया गया है कि कमांडो ने संभवत: मानक संचालन प्रक्रियाओं का पालन नहीं किया। हालांकि, घटना से जुड़े हर पहलू की जांच पूरी होने के बाद ही सच्चाई सामने आ सकेगी।

सूत्रों के अनुसार, सीआरपीएफ ने मोबाइल पर रिकॉर्ड किए गए घटना के कुछ वीडियो और कथित पीड़ित तथा कुमार विश्वास के सुरक्षाकर्मियों द्वारा दिए गए शुरुआती बयानों के आधार पर एक प्रारंभिक रिपोर्ट तैयार की है।

उन्होंने बताया कि रिपोर्ट के निष्कर्षों को भविष्य की कार्रवाई के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय और कुमार विश्वास के साथ भी साझा किया जाएगा।

कुमार विश्वास के सुरक्षाकर्मियों ने बुधवार को पुलिस थाने में दर्ज कराई गई शिकायत में आरोप लगाया था कि एक व्यक्ति ने कवि के वाहन में टक्कर मार दी और उनके काफिले में शामिल सीआरपीएफ जवानों और पुलिस कर्मियों पर भी ‘‘हमला’’ किया।

बाद में कथित पीड़ित डॉ. पल्लव बाजपेयी ने गाजियाबाद में इंदिरापुरम पुलिस से संपर्क किया और आरोप लगाया कि उनके वाहन को टक्कर मार दी गई और कुमार विश्वास के सुरक्षाकर्मियों ने उन पर हमला किया।

PTI

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...