Shams ki Zubani: 'लड़की ने वीडियो बनाई और डिलीट कर दी' क्या यही है चंडीगढ़ एमएमएस कांड की सच

Shams ki Zubani: चंडीगढ़ की यूनिवर्सिटी के गर्ल्स हॉस्टल में लड़कियों के वीडियो लीक मामले की सच्चाई क्या है ? इसी पर आज Shams Ki Zubani. इस मामले में रोजाना नए खुलासे हो रहे है।
Shams ki Zubani
Shams ki Zubani

Shams ki Zubani: चंडीगढ़ की यूनिवर्सिटी के गर्ल्स हॉस्टल में लड़कियों के वीडियो लीक होने के मामले में बवाल मचा हुआ है। इस प्रकरण में ऐसे कई सवाल है, जिनका जवाब अभी तक नहीं मिला है। मसलन, आरोपी लड़की ने क्या कोई आपत्तिजनक वीडियो बनाई ? कुल कितनी वीडियो बनाई ? कितनी वीडियो डिलीट की ? क्या उसने कुछ लड़कियों की वीडियो बनाई ? क्या उसने सिर्फ अपनी वीडियो ही बनाई थी और उसे अपने दोस्त को भेज दिया था ? क्या वो वीडियो या फोटोज ले रही थी, इससे पहले ही बवाल मच गया ? क्या उसे ब्लैकमेल किया जा रहा था ? आज की शम्स की जुबानी में बात इसी मुद्दे की।

Shams ki Zubani: बात चडीगढ़ यूनिवर्सिटी की। ये यूनिवर्सिटी 2012 से वर्किंग है। एक लड़की, जो हिमाचल प्रदेश की रहने वाली है, ने बीबीए कोर्स में एडमिशन लिया। उसकी उम्र करीब 20 साल है। उसे Scholarship मिली थी। यहां उसे एक हास्टल का कमरा मिला, जो यूनिवर्सिटी कैंपस के डी ब्लाक में था। बात बीते शनिवार की है। आरोप है कि एक लड़की ने आरोपी छात्रा को वाशरूम के बाहर नहाते हुई लड़कियों का वीडियो बनाते हुए देख दिया। फिर क्या था। ये बात यूनिवर्सिटी में आग की तरह फैल गई। इसकी जानकारी वार्डन और मैनेजर को दी गई। इस सिलसिले में दो वीडियो वायरल हो रहे हैं। एक वीडियो में लड़की को वार्डन डांट रही है, जब कि दूसरी वीडियो में कुछ लड़कियां इस लड़की से पूछताछ कर रही है। उस दौरान लड़की इस बात को स्वीकार कर रही है कि उसने वीडियो बनाया, लेकिन साथ में ये भी कहा कि उसे ब्लैकमेल किया जा रहा है। अब सवाल ये है कि कौन उसे ब्लैक मेल कर रहा है ? ये भी कहा गया कि लड़की ने वीडियो डिलीट कर दिया है।

Shams ki Zubani: वार्डन ने तमाम सवाल लड़की से पूछे कि वो किसके कहने पर ये वीडियो बना रही है ? ये भी पूछा गया कि कब से ये वीडियो बना रही थी ? जब वार्डन उससे बात कर रही थी, उसी दौरान आसपास कई छात्राएं खड़ी थी। इसी दौरान हंगामा मच गया। कुछ सच्चाई के साथ साथ अफवाहें भी फैलने लगी। बात इतनी बढ़ गई कि कई छात्राएं विरोध करने लगी। किसी ने कहा कि आरोपी छात्रा ने 60 छात्राओं का नहाते हुए वीडियो बनाया है। किसी ने कहा कि इसको लेकर कुछ छात्राओं ने खुदकुशी कर ली है। कोई कुछ कह रहा था तो कोई कुछ।

बात इतनी बढ़ गई कि पुलिस ने इस सिलसिले में मुकदमा दर्ज किया और जांच शुरू की। इस सिलसिले में तीन आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया, जिनमें लड़की, उसको दोस्त सनी और सनी का दोस्त शामिल है। 7 दिनों का रिमांड मिला है पुलिस को। इस सिलसिले में एसआईटी का भी गठन कर दिया गया है, जो पूरे मामले की जांच कर रही है।

Shams ki Zubani: पुलिस को छात्रा के मोबाइल फोन से वॉट्सएप चैट ट्रांसक्रिप्शन भी मिला है। इसके मुताबिक आरोपी छात्रा किसी मोहित से चैट कर रही थी। इस पर आरोपी छात्रा कहती है, 'आज मरवा ही दिया था, क्योंकि एक छात्रा ने उसे एक नहाती हुई छात्रा की फोटो लेते हुए देख लिया था।' तो यहां सवाल उठता है कि क्या छात्रा उस वक्त लड़की की फोटो या वीडियो बना रही थी ? दूसरा ये मोहित कौन है ? वो वीडियो और फोटोज क्यों डिलीट करने के लिए कह रहा है ?

वहीं आरोपियों के वकील और पुलिस ने छात्रा के मोबाइल फोन में एक अन्य छात्रा की फोटो होने की बात कही है लेकिन उसकी पहचान नहीं हो पाई है। यहां सवाल है कि ये फोटो किसकी है ? क्या ये अश्लील फोटो है ? छात्रा के पास ये फोटो कहां से आई ?

Shams ki Zubani: जांच से एक बात तो साफ है कि आरोपी छात्रा ने वीडियो तो बनाई थी, लेकिन उसने पकड़े जाने की हालात में वीडियो डिलीट भी कर दिया था। यही वजह है कि पुलिस को उसके मोबाइल फोन से अभी तक सिर्फ उसी का वीडियो मिला है। अब ये वीडियो किस तरह का है, इसी जांच जारी है। हालांकि अब 7 दिनों तक पुलिस इस सिलसिले में गहनता से जांच करेगी।

ये पता लगाया जाएगा कि

आखिर कब से ये लड़की इस तरह से वीडियोज बना रही थी ?

क्या ये सब करने के लिए उसे उसका Boy friend कह रहा था ?

सवाल ये भी है कि क्या आरोपी छात्रा ने कभी अपना आपत्तिजनक वीडियो अपने दोस्त को शेयर किया था ?

अगर किया था तो इसके पीछे वजह क्या थी ?

क्या ये किसी गैंग की तो साजिश नहीं है ?

Shams ki Zubani: जांच में एक बात सामने आई है कि एक भी वीडियो (लड़कियों के नहाने वाला वीडियो) इस मामले से संबंधित सोशल मीडिया पर अपलोड नहीं है और न ही मिला है। अब 7 दिनों तक जांच होगी और उम्मीद करते है कि दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। लेकिन इस घटना से न सिर्फ लड़की की इमेज को धक्का लगा है। बल्कि यूनिवर्सिटी का नाम भी बदनाम हुआ है। हफ्ते दस दिन में सारी स्थिति साफ हो जाएगी।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in