PUBG Murder: छह साल के मासूम का मुंह फेवीक्विक से चिपकाया, हाथ-पैर बांधकर मारा, टॉयलेट में छिपा दी थी लाश

PUBG Game Addicted Killed Minor Boy: PUBG Murder: गेम खलने के आदी लड़के ने बच्चे के मुंह को Feviquick से चिपकाया, हाथ-पैर बांधकर कर दी हत्या
PUBG Murder: छह साल के मासूम का मुंह फेवीक्विक से चिपकाया, हाथ-पैर बांधकर मारा, टॉयलेट में छिपा दी थी लाश

Crime News in Hindi: उत्तर प्रदेश (UP) के देवरिया जिले में अपहरण (Kidnap) के बाद बच्चे की हत्या मामले में ट्यूशन टीचर (Tuition Teacher) के बेटे-बहू और पोते को गिरफ्तार (Arrest) कर जेल भेज दिया गया है. 6 साल के मासूम की टीचर के घर में लाश (Dead body) मिली थी. PUBG गेम खलने के आदी पोते ने अपने दादा को फंसाने के लिए इस वारदात को अंजाम दिया था. पुलिस ने कुछ देर बाद ही इस पूरी वारदात का खुलासा कर दिया.

यह वारदात लार थाना इलाके के हरखौली गांव में घटित हुई. दरअसल, गांव के निवासी गोरख यादव का 6 वर्षीय बेटा बीते बुधवार को नजदीक रहने वाले बुजुर्ग टीचर नरसिंह विश्वकर्मा के घर ट्यूशन पढ़ने गया था. लेकिन वापस नहीं लौटा. घरवालों ने खोजबीन शुरू की तो कोई सफलता नहीं मिली.

कुछ देर बाद गांव के बाहर एक खेत में एक लेटर मिला, जिसमें बच्चे को छोड़ने के बदले 5 लाख की फिरौती की मांग की गई थी. इस मामले की सूचना स्थानीय पुलिस थाने में दी गई. रात करीब 9 बजे गांव में पुलिस पहुंची और छनबीन शुरू की गई, फिर भी बच्चे का कुछ पता नहीं चल पा रहा था

इसके बाद संदेह के आधार पर पुलिस ने ट्यूशन टीचर के बेटे राजकुमार से देर रात पूछताछ की, तो पता चला कि मासूम का शव ट्यूशन टीचर के घर के शौचालय के अंदर पड़ा है.

पुलिस की पूछताछ में खुलासा हुआ कि बुजुर्ग टीचर के पोते अरुण विश्वकर्मा (20 साल) ने मासूम को अगवा कर लिया था. इसके बाद फेवीक्विक (feviquick) से मासूम के दोनों होठों को चिपकाकर उसका मुंह बंद कर दिया और दोनों हाथ पैर बांध दिए थे. फिर मारपीट के बाद मासूम की हत्या कर दी. वहीं, शव को घर के बाहर बने टॉयलेट में छिपा दिया था. पुलिस ने देर रात शव को बरामद किया था.

विवेचना में यह मामला आया कि टीचर का पोता अरुण विश्वकर्मा कोई काम नहीं करता था. सट्टेबाबी में पैसा लगाता था. साथ ही पब्जी गेम (PUBG Game) खेलने का भी आदी है. इसके दादा-दादी (ट्यूशन शिक्षक और पत्नी) ऐसा करने से मना करते थे और जब वह पैसा मांगता था तो डांटकर भगा देते थे, जिससे खार खाये पोते अरुण ने उन्हें सबक सिखाने की ठानी और घर ट्यूशन पढ़ने आए 6 साल के बच्चे की निर्मम तरीके से हत्या कर दी.

आरोपी ने लोगों को गुमराह करने के लिए पांच लाख की फिरौती की चिट्ठी भी छोड़ दी. आरोपी अपने दादा दादी को जेल भिजवाना चाहता था. बुजुर्ग टीचर के बेटे राजकुमार और बहू कुसुम को भी अपने बेटे के कृत्य की जानकारी थी. लेकिन उन्होंने मामले को छिपाकर आरोपी का साथ दिया.

पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धाराओं 302, 201,120 B और 364 A के तहत मुकदमा दर्ज किया है और मुख्य आरोपी के साथ मामले को छिपाने में सह आरोपी माता-पिता को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. एसपी संकल्प शर्मा ने बताया कि इस जघन्य हत्याकांड में लार पुलिस गैंगस्टर की भी कार्यवाही करने जा रही है.

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in