"बाबू जी, हम नहीं रहना चाहते Gurgaon में", हमें बचा लो! ये वीडियो डरा देगा!

ADVERTISEMENT

Haryana Violence Shocking Video: गुरुग्राम के पलड़ा गांव सेक्टर 70ए में विशेष समुदाय के 2 युवकों को पीटने का मामला सामने आया है। जिसका वीडियो वायरल हो रहा है।

social share
google news

Haryana Violence Shocking Video: गुरुग्राम की पलड़ा गांव सेक्टर 70ए में विशेष समुदाय के दो युवकों को पीटने का मामला सामने आया है। रिहायशी सोसाइटी के रेसिडेंट्स इन परिवारों बचाव में सामने आए हैं। सोसाएटी में रहने वालों की कहना है कि परेशान और डरे हुए परिवारों की हरसंभव मदद की जाएगी। जरअसल ये परिवार बंगाल के रहने वाले हैं यहां झुग्गियों में रहते हैं और घरों में काम काज करते हैं। 

नूह से प्रवासी हिंदू करने लगे पलायन

इस बीच सोमवार को मेवात नूह में हुई हिंसा के बाद भले ही हालातों को काबू करने के लिए पैरा मिलिट्री फोर्स और पुलिस की मौजूदगी बढ़ा दी गई हो। लेकिन उस हिंसा की दहशत लोगो के दिलो दिमाग से निकल नही रही है। हिंसा के 2 दिन बाद अब नूह में रह रहे प्रवासी हिंदू यहां से पलायन कर रहे है। इन सबका कहना है की यहां के हालात अब रहने के लायक नही रहे। मध्य प्रदेश के रहने वाले जगदीश ने बताया कि वो पिछले कई महीनों से नूह में रह कर अपने परिवार का पालन पोषण कर रहे थे लेकिन अब उन्हें यहां डर लग रहा है।  

 

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

लोगों का पलायन

 

करीब 400 परिवार जा रहे है नूह से

जगदीश को तरह ही यूपी के राम अवतार भी यहां अपने परिवार के साथ रह रहे थे लेकिन अब उन्हें भी यहां डर लग रहा है। नूह में कर्फ्यू लगा है ऐसे में यहां से बाहर जाने के लिए साधन नही है फिर भी यहां रह रहे प्रवासी लोग पैदल ही अपने छोटे छोटे बच्चो को लेकर यहां से पलायन कर रहे है। इन लोगो का कहना है ये कुछ दिन पहले तक यहां सब कुछ सामान्य था लेकिन सोमवार 31 जुलाई को शोभा यात्रा के दौरान दोनो समुदायों के बीच हुई हिंसा के बाद ये लोग डरे हुए है और यहां से अपने अपने घर के लिए पैदल ही चल पड़े है। 

नूह में हुई हिंसा के बाद दहशत में है हिंदू

प्रशासन लगातार दावा कर रहा है की हालात काबू में है लेकिन शायद यहां रह रहे लोग प्रशासन पर सुरक्षा को लेकर विश्वास नहीं कर पा रहे है। इसलिए  यहां से कई परिवार पलायन कर गए है। इन लोगो ने दावा किया की मंगलवार की रात से ही हिंदू परिवार यहां से पलायन कर रहे है। इनका दावा है कि करीब चार सौ परिवार ने मजबूर हो कर यहां से पलायन की है।

ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT