सलमान को मारना चाहते थे ये दोनों ?

ADVERTISEMENT

सलमान खान को मारना चाहते थे शूटर, गोली चलाने वाले आरोपी पुलिस रिमांड पर

social share
google news

14 अप्रेल सुबह के करीब 5 बजे का वक़्त..मुंबई नगरी नींद के आगोश में थी...तभी मुंबई के सबसे फेमस गैलेक्सी अपार्टमेंट के पास दो लोग बाइक पर आते हैं और बॉलीवुड के भाईजान सलमान खान के घर की तरफ बंदूक से एक बाद एक 5 गोलिया चलाते हैं और...मौके से फरार हो जाते हैं...इस वारदात से ना सिर्फ खान परिवार और मुंबई पुलिस ब्लकि सलमान के करोड़ों फेन भी सकते में थे..की इतनी बड़ी वारदात को कैसे किसी ने अंजाम दे दिया...क्योंकि सलमान को इस वारदात से पहले 4 बार धमकी मिल चुकी थी...उन्हें सिक्योरिटी भी मिली हुई थी...लेकिन इसके बावजूद इतनी बड़ी वारदात को अंजाम दिया गया...वैसे पुलिस उन दोनो बाइक पर आए शूटरों को गिरफ्तार कर लिया है...और अदालत ने दोनों को सलमान खान के घर पर फायरिंग मामले में विक्‍की गुप्‍ता और सागर पाल को 10 द‍िनों की पुलिस रिमांड में भेज दिया है। 

क्राइम ब्रांच ने गुजरात के भुज में सोमवार देर रात 1 बजे गिरफ्तारी के बाद इन दोनों को मंगलवार को कोर्ट में पेश किया था। मीडिया रिपोर्ट से मुताबिक अदालत में पुलिस ने अपने रिमांड नोट में साफ शब्‍दों में कहा है कि यह गोलीबारी सलमान खान को 'जान से मारने' के इरादे से की गई थी। गैलेक्‍सी अपार्टमेंट के बाहर रविवार सुबह 4:55 बजे हुई गोलीबारी के आरोपी विक्‍की गुप्‍ता (24 साल) और सागर पाल (21) साल बिहार के रहने वाले हैं। दोनों पश्‍च‍िम चंपारण जिले के बेतिया से ताल्‍लुक रखते हैं। दोनों को इंटेलिजेंस इनपुट के बाद खुफिया ऑपरेशन में सोमवार देर रात अहमदाबाद पुलिस ने गिरफ्तार किया। दोनों इस दौरान माता के मंदिर में छुपे हुए थे। गिरफ्तारी के बाद दोनों को मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच को सौंप दिया गया।मीडिया रिपोर्ट से मुताबिक पुलिस की ओर से मंगलवार को कोर्ट में बताया गया कि वारदात के समय विक्‍की गुप्ता मोटरसाइकिल चला रहा थे। जबकि सागर पाल पीछे बैठा था। सागर ने एक्‍टर के घर पर उन्‍हें 'जान से मारने' के इरादे से गोलियां चलाई थीं। पुलिस ने अदालत से इस आधार पर दोनों शूटर्स की 14 दिनों की रिमांड की मांग की। पुलिस ने कहा है कि साजिश का पता लगाने और घटना के पीछे के मास्टरमाइंड की पहचान करने के लिए पूछताछ की जरूरत है। इसके बाद अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट एलएस पाडेन ने दोनों आरोपियों को 25 अप्रैल तक पुलिस हिरासत में भेज दिया।
 

ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT